Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, अप्रैल 23, 2019 | समय 05:40 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

चुनाव आयोग के अपडेट आंकड़ों को कांग्रेस और भाजपा ने अपने पक्ष में बताया

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 13 2019 7:50PM
चुनाव आयोग के अपडेट आंकड़ों को कांग्रेस और भाजपा ने अपने पक्ष में बताया
देहरादून, 13 अप्रैल (हि.स.)। चुनाव आयोग ने उत्तराखण्ड की पांच सीटों पर अपने आंकड़ों में परिवर्तन किया है। निर्वाचन आयोग की माने तो लोकसभा चुनाव में उत्तराखंड की पांचों इस बार 61.50 प्रतिशत मतदान हुआ, जबकि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में 62.15 फीसदी मतदान हुआ था। वर्ष 2014 की तुलना में 2019 में 0.65 फीसदी कम मतदान हुआ है। इससे उम्मीदवारों की धड़कने तेज हो गई हैं कि कम मतदान किसके पक्ष में फायदेमंद रहेगा? इसका गुणा-भाग लगाया जा रहा है। लोकसभा सीटों के अनुसार निर्वाचन आयोग के नए आंकड़ें बताते हैं कि टिहरी लोकसभा सीट पर 58.30 फीसदी, गढ़वाल लोकसभा में 54.47 फीसदी, अल्मोड़ा लोकसभा में 51.82 फीसदी मतदान हुआ है। इसी हरिद्वार लोकसभा सीट पर 68.92 फीसदी मतदान तथा नैनीताल लोकसभा सीट पर 68.69 फीसदी मतदान हुआ है। चुनाव परिणाम 23 मई को आएंगे। कांग्रेस कुमाऊं के नैनीताल तथा अल्मोड़ा सीटों पर अपना दावा ठोंक रही है तो वहीं टिहरी संसदीय सीट पर भी अपना दावा ठोंक रही है। कांग्रेस का मानना है कि वह तीन सीटें जीतने की स्थिति में है, जबकि भाजपा ने इसका पुरजोर प्रतिकार किया है। भाजपा महानगर अध्यक्ष विनय गोयल का मानना है कि चुनाव परिणाम और मतदान एक जैसे ही हैं। उनका कहना था कि यही स्थिति अल्मोड़ और नैनीताल में भी है। भाजपा पांचों सीटें भारी मतों से जीत रही हैं। गोयल ने कहा कि टिहरी लोकसभा क्षेत्र का वर्ष 2014 का चुनाव परिणाम तब भी लगभग इतने ही वोट पड़े थे, केवल एकमात्र चकराता विधान सभा को छोड़कर। तब केवल चकराता में कांग्रेस लगभग चार हजार वोट से आगे रही थी। शेष पूरे लोकसभा क्षेत्र में कांग्रेस हारी थी। भाजपा उम्मीदवार माला राज्यलक्ष्मी शाह को 57 प्रतिशत से अधिक वोट मिले थे और देहरादून महानगर में 63 प्रतिशत तब प्रदेश में कांग्रेस की सरकार थी। कांग्रेस के लोग ख्याली पुलाव पकाते रहे हैं। वर्ष 2014 से भी भारी मतों से हमारे उम्मीदवार जीतेंगे। इससे पहले टिहरी कांग्रेस उम्मीदवार प्रीतम सिंह ने आंकड़ों की जुबानी बताया कि कांग्रेस भाजपा से बहुत आगे है। भाजपा के प्रवक्ता वीरेन्द्र सिंह बिष्ट ने बताया कि हम भारी मतों से जीत रहे हैं। इसके पीछे नेतृत्व की बड़ी मेहनत है। इसके अलावा नरेन्द्र मोदी पर लोगों का भरोसा भी भाजपा से जुड़ने में सहयोग करता है। हिन्दुस्थान समाचार/साकेती/अमर/पवन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image