Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 00:32 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

167 बच्चों को पिलाई गई स्वर्णप्राशन दवा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 13 2019 7:44PM
167 बच्चों को पिलाई गई स्वर्णप्राशन दवा
हरिद्वार, 13 अप्रैल (हि.स.)। ऋषिकुल आयुर्वेदिक कॉलेज के बालरोग विभाग में शनिवार को शून्य से 16 आयु वर्ष के बच्चों को स्वर्णप्राशन दवा खिलाई गई। इस अवसर पर 167 बच्चों ने दवा का सेवन किया। बाल रोग विशेषज्ञ डॉ रीना पाण्डेय ने बताया कि स्वर्णप्राशन प्राचीन आचार्यों का बच्चों के लिए अनुपम उपहार है। इसका सेवन बच्चों के लिए बुद्धि, अग्नि, आयुध्य, पुष्यकारक व मेधा शक्ति को बढ़ाने वाला होता है। यह दवा केवल पुष्य नक्षत्र का योग होने पर ही पिलाई जाती है। इस कारण इसका प्रभाव और अधिक हो जाता है। इसके सेवन से बच्चा केवल सुनने मात्र से ही स्मरण शक्ति का प्राप्त कर लेता है। इसी के साथ यह शरीर में प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है तथा लम्बाई बढ़ाने में भी सहायक होता है। इस दवा के सेवन से किसी भी प्रकार का कोई दुष्प्रभाव नहीं होता है। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/अमर/पवन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image