Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अप्रैल 20, 2019 | समय 23:41 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और पूर्व सांसद परिपूर्णानंद का निधन

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 13 2019 7:37PM
स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और पूर्व सांसद परिपूर्णानंद का निधन
देहरादून, 13 अप्रैल (हि.स.)। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और पूर्व सांसद परिपूर्णानंद पैन्यूली (96) का शनिवार को ओएनजीसी अस्पताल में निधन हो गया। वे कुछ समय से बीमार चल रहे थे। रविवार को उनका राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी व पूर्व सांसद परिपूर्णानंद पैन्यूली कुछ समय से बीमार चल रहे थे। परिपूर्णानंद का पार्थिव शरीर ओएनजीसी चिकित्सालय में रखा गया है। परिचय : परिपूर्णानंद पैन्यूली परिपूर्णानंद पैन्यूली का जन्म 19 नवम्बर 1924 में टिहरी शहर के निकट छौल गांव में हुआ था। वर्ष 1971 में टिहरी राजशाही के खिलाफ उन्होंने लोकसभा का चुनाव कांग्रेस पार्टी से लड़ा था और राजा को पराजित करते हुए संसद पहुंचे थे। स्वर्गीय पैन्यूली कुशल लेखक व पत्रकार भी रहे और उनकी पत्रकारिता का सभी लोहा मानते थे। परिपूर्णानंद पैन्यूली जीवट, जुझारू और स्वच्छ छवि के एक स्पष्ट व्यक्ति थे। आजादी की लड़ाई और टिहरी रियासत को आजाद भारत में विलय कराने में उनकी अहम भूमिका रही। अपने संसदीय कार्यकाल में उन्होंने पर्वतीय क्षेत्र के पिछड़ेपन और अनुसूचित जाति-जनजाति की समस्याओं को लेकर पुरजोर ढंग से आवाज उठाई थी। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने जताया दुख मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने पूर्व सांसद व स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिपूर्णानन्द पैन्यूली के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत की आत्मा की शांति एवं दुख की इस घड़ी में उनके परिजनों को धैर्य प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रतीम सिंह शोक व्यक्त किया उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने पूर्व सांसद एवं स्वतंत्रता सेनानी परिपूर्णानन्द पैन्यूली के आकस्मिक निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। प्रीतम सिंह ने पैन्यूली के शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की है। उन्होंने कहा कि पैन्यूली ने जीवन पर्यन्त समाज के गरीब, असहाय एवं निम्न वर्गों के बीच रहकर काम किया था। समाज सेवा के साथ-साथ एक अच्छे साहित्यकार भी थे, उनके निधन से हमने एक अच्छा नेता व साहित्यकार खो दिया है, इसकी भरपाई करना कठिन है। हिन्दुस्थान समाचार/अमर/पवन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image