Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 19, 2019 | समय 03:49 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कन्या पूजन के साथ नवरात्र व्रत का पारण

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 13 2019 5:47PM
कन्या पूजन के साथ नवरात्र व्रत का पारण
देहरादून, 13 अप्रैल (हि.स.)। अष्टमी और नवमी के अवसर पर शनिवार को लोगों ने कन्या पूजा कर व्रत का पारण किया। नवरात्र पर्व में मां दुर्गा को प्रसन्न करने के लिए श्रद्धालु व्रत रखते हैं। कलश की स्थापना कर विधिवत व्रत रखकर कन्या पूजन किया। नवरात्र का आखिरी दिन राम नवमी की पूजा के साथ 14 अप्रैल को समाप्त होगा लेकिन शनिवार को प्रातः 08 बजकर 19 मिनट तक अष्टमी थी, उसके बाद नवमी प्रारंभ हो गई। तमाम श्रद्धालुओं ने आज अष्टमी पूजन कर अपने व्रत का समापन किया। शनिवार को सभी मंदिरों पृथ्वीनाथ मंदिर सहरनपुर चौक, सनातन धर्म मंदिर, घंटाघर, गीता भवन, मां कालिका मंदिर समेत सभी मंदिरों में अष्टमी का पर्व मनाया गया। कन्याओं को प्रसाद खिलाकर उनका आशीर्वाद लिया, इसके बाद व्रतियों ने अपना व्रत तोड़ा। जो लोग नवमी व्रत रखते हैं वह अपने व्रत का समापन 14 अप्रैल को करेंगे। नवरात्र में बिना कन्या पूजा के व्रत अधूरा माना जाता है। कन्या पूजा अष्टमी या फिर नवमी के दिन की जाती है। रामअवतार मिश्र बताते हैं कि 13 अप्रैल को सूर्योदय 05 बजकर 43 पर हुआ। अष्टमी प्रातः 08 बजकर 19 मिनट तक है और फिर उसके बाद नवमी शुरू हो जाएगी। भगवान राम का जन्म नवमी तिथि को कर्क लग्न तथा कर्क राशि में हुआ था। 13 अप्रैल को दिन शनिवार को मध्यान्ह नवमी तिथि होने के कारण रामनवमी 13 अप्रैल को ही मनाई जाएगी। नवमी अगले दिन 14 अप्रैल को प्रातः 06 बजकर 04 मिनट बजे तक है। नौ दिन व्रत रहने वाले 14 को पारण करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/साकेती/अमर/पवन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image