Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, अप्रैल 18, 2019 | समय 19:47 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

नवरात्र में साधना से भव सागर से पार हो जाता है मनुष्य: स्वामी बालकानंद

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 12 2019 6:58PM
नवरात्र में साधना से भव सागर से पार हो जाता है मनुष्य: स्वामी बालकानंद
हरिद्वार, 12 अप्रैल (हि.स.)। नवरात्र पर्व में नौ दिनों तक मां भगवती की विधि-विधान से की गई पूजा-अर्चना से मनुष्य का जीवन भव सागर से पार हो जाता है। उक्त उद्गार आनन्द पीठाधीश्वर महामण्डलेश्वर स्वामी बालकानंद गिरि महाराज ने हरिधाम सनातन सेवा ट्रस्ट में श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। स्वामी बालकानंद ने कहा कि संसार में मां की शक्ति से बड़ी कोई शक्ति नहीं है। क्योंकि इस संसार की पालनहार मां भगवती जगदम्बे भवानी है। देवताओं ने भी मां भगवती की उपासना कर मनोवांछित वरदान प्राप्त किए हैं। श्री दक्षिण काली मंदिर में शुक्रवार को सप्तम नवरात्र के अवसर पर हरिद्वार के अलावा दूसरे राज्यों से भी श्रद्धालु मां दक्षिण काली का आशीर्वाद प्राप्त करने पहुंचे। श्रद्धालु भक्तों को संबोधित करते हुए स्वामी कैलाशानंद ब्रह्मचारी ने कहा कि मां दक्षिण काली अपनी शरण में आए प्रत्येक श्रद्धालुओं के कष्टों का निवारण करती हैं। हिन्दुस्थान समाचार/रजनीकांत/राजेश/पवन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image