Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, अप्रैल 18, 2019 | समय 20:02 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

नारायणबगड़ व जोशीमठ के छह गांवों के ग्रामीणों ने किया चुनाव बहिष्कार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 11 2019 6:59PM
नारायणबगड़ व जोशीमठ के छह गांवों के ग्रामीणों ने किया चुनाव बहिष्कार
गोपेश्वर, 11 अप्रैल (हि.स.)। लोक सभा चुनाव के लिए मतदान प्रक्रिया संपन्न हो गई है। इस चुनाव में कई स्थानों पर लोगों में मतदान के प्रति उत्साह दिखा तो कहीं मतदाताओं ने सड़क सहित अन्य मुद्दों को लेकर चुनाव का बहिष्कार भी किया। चमोली जिले के नारायणबगड व जोशीमठ विकास खंड के छह गांव के लोगों ने चुनाव का बहिष्कार किया। चमोली जिले के जोशीमठ विकास खंड के ह्यूणा, तिरोसी व पोखनी के ग्रामीण पिछले तीन दशक से गांव में सड़क की मांग कर रहे हैं | उनकी मांग पूरी न होने पर ग्रामीणों ने चुनाव बहिष्कार कर दिया। यहां पर 253 मतदाता है। ग्राम प्रधान भादी देवी, क्षेत्र पंचायत सदस्य कांति देवी, धनेश्वरी देवी, दरवान सिंह, मुरली सिंह, रणजीत सिंह, राकेश सिंह, जगदीश सिंह आदि का कहना है कि वे तीन दशक से गांव को सड़क से जोड़ने की मांग कर रहे है, लेकिन उनकी मांग पूरी नहीं की जा रही है। कहा कि यदि यही हाल रहा तो आगामी पंचायत चुनावों का भी ग्रामीण बहिष्कार करने के लिए बाध्य होंगे। थराली के चैंडा मतदान केंद्र पर 11 बजे बाद हुआ मतदान चैंडा गांव के लोगों ने चुनाव बहिष्कार का ऐलान दो माह पूर्व ही कर दिया था। ग्रामीण गांव की एक विवाहित बेटी पवित्रा देवी जो पिछले चार महीने से गुमशुदा है, का अभी तक सुराग नहीं लग पाया है, जिससे ग्रामीण नाराज चल रहे थे। चैंडा मतदान केंद्र पर मतदान के माॅक पोल में भी किसी भी पार्टी का मतदान अभिकर्ता नहीं पहुंचा, जिस कारण मतदान कर्मियों ने ही मोक पोल किया। चार घंटे तक कोई भी वोट नहीं पड़ा। यहां कुल 696 मतदाता हैं । दोपहर 11 बजे एक मत पड़ा जिसके बाद 56 और मतदाताओं ने अपने मत का प्रयोग किया। नारायण बगड़ के तीन गांवों में रहा चुनाव बहिष्कार नारायण बगड़ विकासखंड के कफोली मतदान केंद्र पर लोग वोट देने नहीं पहुंचे | यहां 322 मतदाता हैं। हालांकि प्रशासन यहां पर एक मत पड़े होने की बात कर रहा है। इसी तरह बमियाला में 259 मतदाताओं, गंडीक में 223 मतदाताओं ने वोट ना डालने का फैसला किया। इन गांवो के लोग मतदान केंद्रों पर वोट डालने नहीं पहुंचे। ग्रामीणों का आरोप है कि वो पिछले कई सालों से गांव में सड़क बनाए जाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन शासन-प्रशासन व जनप्रतिनिधि उनकी सुनते नहीं। जिस कारण उन्हें चुनाव बहिष्कार का निर्णय लेना पड़ा है। जिला निर्वाचन कार्यालय की ओर से जारी सूचना के अनुसार बदरीनाथ विधानसभा के अंतर्गत पोखनी पोलिंग बूथ पर तीन सर्विस मतदाता वोट पडे। थराली विधान सभा में कफोली पोलिंग बूथ पर मतदाता सूची से एक वोट व इलेक्शन ड्यूटी सर्टिफिकेट (ईडीसी) तीन वोट पडे। वमिमाला में दो ईडीसी वोट व गंडिक में दो ईडीसी वोट पड़े है। हिन्दुस्थान समाचार/जगदीश/राजेश/शंकर
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image