Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, अप्रैल 18, 2019 | समय 20:22 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

राहुल गांधी ने मतदाताओं को साधने में नही छोड़ी कोई कसर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 6 2019 8:01PM
राहुल गांधी ने मतदाताओं को साधने में नही छोड़ी कोई कसर
देहरादून, 06 अप्रैल (हि.स.)। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को उत्तराखण्ड में ताबड़तोड़ एक के बाद एक चुनावी सभाएं कर वोटरों के साधने में कोई कसर नही छोड़ी। राहुल गांधी ने शिक्षा, स्वास्थ्य की बदहाली से लेकर किसान की दुखती रग पर हाथ रखकर भाजपा को कोसा। साथ ही आम लोगों, व्यापारी और विचारों को उकेर कर सैनिकों पर भाजपा के कथनी और करनी में फर्क पर जमकर नसीहत दी। यही नहीं देश से गरीबी पूरी तरह से खत्म करने का लक्ष्य कांग्रेस की प्रतिबद्धता बताकर मोदी सरकार के कार्यकाल पर सवाल उठाए। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पिछले माह 11 मार्च को देहरादून में चुनावी सभांए कर भाजपा सरकार की नाकामियों को प्रहार किये थे। इसके बाद आज यानी अपने दूसरे दौरे में गढ़वाल के श्रीनगर, हरिद्वार के साथ कुमाऊं के अल्मोड़ा सहित दोनों मंडलों में तीन सभाएं कर प्रदेश के पांचों सीटों पर कांग्रेस उम्मीदवारों को जीत के लिए समर्थन मांगा। अल्मोड़ा के सीमकनी मैदान में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी सरकार ने किसानों का कर्ज माफ नहीं किया लेकिन 15 लोगों के साढ़े तीन लाख करोड़ माफ कर दिए। राहुल ने कहा कि वादे के मुताबिक राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनते ही किसानों के कर्ज माफ कर दिए गए। हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था को नष्ट नहीं होने दिया जाएगा। कांग्रेस की सरकार बनी तो देश के 20 फीसदी अति गरीब लोगों को साल में 72 हजार रुपये दिए जाएंगे। शिक्षा व्यवस्था बेहतर करने का वादा करने के साथ ही अर्धसैनिक बलों को सैनिक का दर्जा दिलाने और पहाड़ों में स्वास्थ्य सेवा दुरुस्त करने की बात कही। उन्होंने कार्यकर्ताओं में जोश भरकर कांग्रेस उम्मीदवार प्रदीप टम्टा को जिताने की अपील की। कांग्रेस अध्यक्ष ने जीएसटी पर सवाल उठाते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकार आते ही जन विरोधी गब्बर सिंह टैक्स की स्थिति को बदला जाएगा। टैक्स का स्लैब बदलकर ऐसी स्थिति लाई जाएगी ताकि छोटे व्यापारी व उद्योगों की सुरक्षा हो सके और लोग फिर से रोजगार पा सकें। राहुल गांधी ने सेना बहुल राज्य को भांपते हुए श्रीनगर में भाजपा पर सैनिकों के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया। कहा कि पुलवामा में सीआरपीएफ का जवान शहीद होता है तो उसे शहीद का दर्जा नहीं मिलता लेकिन हमारी पार्टी घोषणा पत्र में इसेका जिक्र किया है। जवान शहीद होंगे तो शहीद का दर्जा दी जाएगी। इसके साथ ही बेरोजगारी पर मेक इन इंडिया नाम पर युवाओं को भ्रम में डालने पर तंस कसा। सरकारी कार्यालयों के चक्कर काटते-काटते युवाओं का भविष्य चौपट हो रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/राजेश/पवन
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image