Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 03:21 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

सिपाही ने सबइंस्पेक्टर पर लगाये गम्भीर आरोप, डीजीपी से की शिकायत

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 21 2018 5:28PM
सिपाही ने सबइंस्पेक्टर पर लगाये गम्भीर आरोप, डीजीपी से की शिकायत
इटावा, 21 अक्टूबर (हि.स.) उत्तरप्रदेश के इटावा में डायल 100 पीआरवी में तैनात पुलिस कर्मी ने यूपी डीजीपी ओपी सिंह को लिखित में चिट्ठी लिखकर डायल 100 में चल रहे भ्रष्टाचार का खुलासा किया है। पुलिसकर्मी ने डायल 100 में तैनात सबइंस्पेक्टर अभयपाल सिंह पर रिश्वतखोरी के गंभीर आरोप लगाते हुए छुट्टी, रिजर्व और पोस्टिंग की रेटलिस्ट का खुलासा किया है। पुलिसकर्मी ने डीजीपी को चिट्ठी लिखकर साथ में एसआई से बातचीत की रिकॉर्डिंग भेजकर भ्रष्ट एसआई पर कार्यवाही की मांग की है। पुलिस कर्मी की चिट्ठी सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में हडकंप मच गया है। डायल 100 में तैनात पुलिसकर्मी विनोद ने डीजीपी को लिखी चिट्ठी में डायल 100 में तैनात सब इंस्पेक्टर अभयपाल सिंह पर पोस्टिंग के नाम पर पांच हजार, रिजर्व में रहने के तीन हजार, छुट्टी के नाम पर पांच सौ रुपया और दारू मुर्गा मांगने का आरोप लगाकर रेटलिस्ट का खुलासा किया है। शिकायतकर्ता पुलिसकर्मी के आरोपों की चिट्ठी वायरल होने के बाद पुलिस महकमे में हड़कम्प मच गया है। इस मामले पर पीड़ित सिपाही विनोद ने बताया कि वह डायल 100 पीआरवी में तैनात है। डायल 100 में प्रभारी निरीक्षक के पद पर तैनात सब इंस्पेक्टर अभयपाल सिंह उससे ही नहीं बल्कि लगभग हर सिपाही से ट्रांसफर, पोस्टिंग और रिजर्व के नाम पर खुलेआम पैसों की वसूली करता है। सब इंस्पेक्टर इटावा में पिछले 20 वर्षों से तैनात है और पड़ोस के जिले औरैया बार्डर का निवासी है। सब इंस्पेक्टर अभयपाल सिंह सभी सिपाहियों से ट्रांसफर पोस्टिंग के नाम पर पैसों की मांग करते हैं। पैसे लेने के बाद वह पार्टी करने के लिए मुर्गा और शराब मांगते हैं। और न देने पर सिपाही की गैरहाजिरी दर्ज कर देते हैं। इसलिए मैंने सब इंस्पेक्टर अभयपाल सिंह की शिकायत पुलिस महानिदेशक को लिखित में की है। शिकायती पत्र के साथ में डीजीपी को एसआई अभयपाल से बातचीत की ऑडियो रिकॉर्डिंग भी भेजी है। सब इंस्पेक्टर के खिलाफ उचित कार्यवाही करने की मांग की है। इस मामले पर एसएसपी अशोक कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी हुई है कि एक सिपाही ने सब इंस्पेक्टर की शिकायत डीजीपी से की है। मैंने जानकारी की तो पता चला है कि शिकायत करने वाला सिपाही ज्यादातर बिना बताए अपनी ड्यूटी से गैर हाजिर रहता है। जिसकी जांच पुलिस अधीक्षक(शहर) रामयश सिंह को दे दी गयी है। और 72 घंटे में जाँच पूरी होने के बाद जो भी दोषी पाया जायेगा उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/राजेश
image