Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, दिसम्बर 13, 2018 | समय 03:56 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बसपा नेता राजेंद्र फौजी ने छोड़ी पार्टी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 9 2018 8:33PM
बसपा नेता राजेंद्र फौजी ने छोड़ी पार्टी
झुंझुनू, 09 नवम्‍बर(हि.स.)। ज्यों ज्यों चुनाव नजदीक आ रहा है। सियासी गणित में भी जोड़तोड़ शुरू हो गया है। झुंझुनू में हनुमान बेनीवाल के राजनैतिक दल राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के कार्यालय का शुभारंभ हुआ। इस मौके पर जो तस्वीर दिखी वो कुछ अलग थी और उसके कई सियासी मायने निकाले जा रहे है। दरअसल इस कार्यालय का समाजसेवी मेवासिंह बोला और पूर्वविधायक प्रतिभासिंह ने फीता काटकर शुभारंभ किया। इस कार्यालय का बसपा नेता राजेंद्र फौजी संचालन करते थे। आज भी इसका संचालन तो राजेंद्र फौजी ही कर रहे थे। लेकिन अब यहां पर बसपा का हटाकर राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी का झंडा लगा दिया गया। इस मौके पर एक सवाल के जवाब में फौजी ने साफ किया कि उन्होंने बसपा छोड़ दी है और हनुमान बेनीवाल की पार्टी को ही वे गांव-गांव में पहुंचाएंगे। साथ ही इस मौके पर उदयपुरवाटी पंचायत समिति में कांग्रेस पार्टी से सदस्य जयंत मूंड भी नारे लगाते हुए दिखाई दिए। इसके अलावा मेवासिंह बोला और बुडाना के पूर्व सरपंच दिलीप कृष्णियां भी कार्यक्रम में दिखाई दिए। जो अब तक हमेशा ही कांग्रेस की जय-जयकार करते दिखाई देते थे। हालांकि मेवासिंह सीधे तौर पर ना सही लेकिन रहते थे हमेशा स्व. शीशराम ओला के साथ। वे भी किसानों के हित के लिए लोकतांत्रिक पार्टी को मजबूत करते दिखाई दिए। कुल मिलाकर कहा जा सकता है कि टिकट वितरण और नामांकन जमा होने तक कई असंतुष्ट चेहरे, अपनी पार्टियां छोडक़र कहीं अन्य जगह दिखे तो कोई बड़ी बात नहीं होगी। बहरहाल उठापटक का दौर चुनाव होने तक यूं ही चलता रहेगा। हिन्दुस्थान समाचार / रमेश/ ईश्वर
image