Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 13:20 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

सात दिसम्बर को जनता मनाएगी दूसरी दिवाली- पायलट

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 6 2018 3:11PM
सात दिसम्बर को जनता मनाएगी दूसरी दिवाली- पायलट
जयपुर, 06 नवम्बर (हि.स.)। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने दावा किया है कि राजस्थान की जनता कांग्रेस की जीत की खुशी में सात दिसम्बर को दोबारा दिवाली मनाएगी। बीजेपी अब हताश होकर लोगों का लोगों का ध्यान भटका रही है, लेकिन जो परफॉर्मेंस पिछले पांच साल में वसुंधरा राजे का रहा है, उससे अब बीजेपी के दोबारा सत्ता में आने की उम्मीद खत्म हो चुकी हैं। पायलट मंगलवार को अपने आवास पर आयोजित दिवाली स्नेह मिलन कार्यक्रम में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। राज्य में अन्य दलों के साथ गठबंधन की बात करते हुए पायलट ने स्वीकार किया कि जो भाजपा के विरोधी दल हैं, वैचारिक तौर पर हम साथ हैं, लेकिन चुनाव लड़ने के लिए जहां भी एडजस्टमेंट करना होगा, हम करेंगे। हमारी बात चल रही है और जो प्रैक्टिकल होगा, पॉसिबल होगा, मिलकर बात करेंगे। भाजपा ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी जुमलों के बहाने मुद्दों से ध्यान भटका है, लेकिन पिछले पांच साल में जो अव्यवस्था वसुंधरा राजे के कार्यकाल में हुई है, उसका जवाब भाजपा को देना पड़ेगा। उन्होंने कहा यही कारण है कि पिछले पांच साल में जो केंद्रीय नेता जयपुर नहीं आए थे वे अब यहां चुनाव आते ही दौरा कर रहे हैं, लोगों के यहां खाना खा रहे हैं, चाय पी रहे हैं, लेकिन उससे अब इस सरकार को जाने से कोई नहीं रोक सकता। अब समय निकल चुका है। उन्होंने कहा कि राज्य की बिगड़ी व्यवस्था के लिए राज्य के साथ केंद्र सरकार भी जिम्मेदार हैं और उन्हें भी इनका जवाब देना होगा। चारों सहप्रभारियों को हटाए जाने की खबरों का खंडन करते हुए सचिन ने कहा कि सभी सहप्रभारी अच्छा काम कर रहे है। उन्हें हटाए जाने की खबरों के पीछे विरोधी दल साजिश हो सकती है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस टिकट की पहली लिस्ट दिवाली बाद घोषित करेगी। घोषणा पत्र की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि हमें 50 हजार से ज्यादा सुझाव मिले है, ये उत्साहवर्द्धक है। युवाओं, महिलाओं, उद्योगपतियों, किसानों ने विभिन्न माध्यमों से सुझाव दिए हैं। हम सभी सुझावों को ध्यान में रखकर नवंबर के मध्य तक घोषणा पत्र जारी कर देंगे। राम मंदिर पर पार्टी स्टैंड की जानकारी देते हुए पायलट ने कहा सवाल दागा कि यह मुद्दा उठा ही क्यों है। हमारी आस्था न्यायालय में है, संविधान में है। बीजेपी केवल लोगों का ध्यान भटकाने के लिए राम मंदिर मुद्दा उठा रही है, जबकि अर्थव्यवस्था चौपट है, कानून व्यवस्था कि स्थिति गंभीर है, बेरोजगारी बढ़ रही है, अपराध बढ़ रहे हैं लेकिन उस पर सरकार जवाब देने से कतरा रही है। अपने चुनाव लड़ने के बारे में सचिन ने कहा कि हम लोग कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं, सैनिक हैं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जो निर्णय करेंगे, उसे हम मानेंगे। महागठबंधन के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए सचिन ने कहा कि गत वर्ष भी राहुल गांधी और सोनिया गांधी ने 17 पार्टियों की मीटिंग दिल्ली में बुलाई थी। अभी चंद्रबाबू नायडू दिल्ली गए थे और राहुल गांधी से बातचीत की थी। उन्होंने कहा कि सभी समान विचारधारा की पार्टियों को साथ लेकर चलना ही कांग्रेस की रीति नीति पहले भी रही है और अब भी है। वर्ष 2004 में सोनिया गांधी ने सभी पार्टियों को साथ जोड़ा था। आज भी भाजपा को हराने के लिए जो भी दल कांग्रेस के साथ आएगा, हम उसका साथ देंगे और लेंगे। हमने अलग-अलग राज्यों में समान विचारधारा वाले दलों के साथ गठबंधन करने का निर्णय किया है। जहां तक लोकसभा चुनावों की बात है हम यूपीए प्लस प्लस गठबंधन के साथ भाजपा को घेरेंगे। राजस्थान में गठबंधन की बात करते हुए प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि जो भी भाजपा के विरोधी दल हैं, वैचारिक तौर पर हम साथ हैं, लेकिन चुनाव लड़ने के लिए जहां भी एक एडजस्टमेंट करना होगा, हम करेंगे। हमारी बात चल रही है जो प्रैक्टिकल होगा पॉसिबल होगा, दोनों-तीनों दल मिलकर बात करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/संदीप/ ईश्वर
image