Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 12:59 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

भाजपा सरकार ने राजस्थान में नहीं किया विकास : हुड्डा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 4 2018 5:37PM
भाजपा सरकार ने राजस्थान में नहीं किया विकास : हुड्डा
जयपुर, 04 नवम्बर (हि.स.) । हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने आराेप लगाया कि वसुंधरा राजे की सरकार ने राजस्थान में किसी प्रकार का विकास नहीं किया है। राज्य की आर्थिक स्थिति बेहद खराब है। उन्होंने कहा कि जब राज्य में कांग्रेस की सरकार थी, तब 1.29 लाख करोड़ का कर्ज था, आज यह बढ़कर 3.10 लाख करोड़ हो गया। पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा रविवार को कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि इन पांच सालों में सरकार ने कोई नया प्रोजेक्ट शुरू नहीं किया, बावजूद इसके तीन लाख 10 हजार करोड़ का कर्ज सरकार के ऊपर है। जो पुराने प्रोजेक्ट चल रहे थे वह भी अब रूके हुए हैं। सरकार का वादा था कि इसे बीमारू राज्य नहीं बनने देंगे, मगर आज भी स्थिति जस की तस है। सरकार ने घोषणा पत्र के वादों को भी पूरा नहीं किया। सरकार जनता की उम्मीदों पर खरा उतरने में नाकामयाब साबित हुई है। भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि बीते पांच सालों में किसान, मजदूर, कर्मचारी समेत किसी भी वर्ग की सरकार ने नहीं सुनी है। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार में 100 से अधिक किसानों ने आत्महत्या की है। सरकार ने कर्जमाफी को एक लॉलीपॉप की तरह ही प्रयोग किया है। किसानों के साथ आज धोखा हो रहा है। उन्हें सरकार की ओर से कोई लाभ नहीं मिल रहा। सरकार किसानों के नहीं है, बल्कि प्राइवेट कंपनियों के लिए काम कर रही है। राजस्थान में भी मुआवजा काफी कम बांटा गया है, जो किसी दिखावे से कम नहीं है। राज्य सरकार द्वारा संचालित कृषि विभाग की योजनाओं से भी किसानों को अधिक लाभ नहीं मिला है। राज्य में 1750 एमएसपी तय की गई है मगर किसानों को अब भी 1200 रुपये का भुगतान ही हो रहा है। दूसरी ओर किसान की लागत अधिक बढ़ गई है। मनरेगा की स्कीम गरीब परिवारों के लिए थी। अब 14 लाख से घटकर दो लाख रह गई है। इसमें कोई इजाफा नहीं किया है। बेरोजगारी बेहताशा बढ़ रही है। रोजगार वृद्धि को लेकर सरकार ने कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा कि सरकार के कार्यकाल के दौरान प्रदेश में 17 हजार स्कूल बंद हुए। एमएमआर में राजस्थान 27वें नंबर पर पहुंच गया। आईटीआई में ट्रेनिंग की व्यवस्था ही नहीं है। स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर उन्होंने कहा कि अशोक गहलोत के कार्यकाल के दौरान फ्री दवाएं दी जाती थी। यह सुविधा भी अब कम कर दी गई। भामाशाह योजना का सही लाभ नहीं पहुंच रहा, बल्कि उसमें घोटाले सामने आ रहे है। राजस्थान में जितना इंवेस्टमेंट आना चाहिए था वह नहीं आया। बाडमेर रिफाइनरी का काम चार सालों से रूका हुआ है। इससे पूरे प्रदेश को काफी नुकसान पहुंच रहा है। भ्रष्टाचार और घोटालों की चर्चा हर ओर हो रही है। हुड्डा ने राम मंदिर के मुद्दे पर कहा कि अगर राम मंदिर बनता है तो वह दिया जरूर जलाएंगे। हालांकि उन्होंने सरकार पर भी सवाल खड़ा करते हुए कहा कि राम मंदिर को सरकार सिर्फ चुनावी मुद्दे के तौर पर उपयोग कर रही है। इसका राजनीतिकरण किया जा रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/ रितिका/ ईश्वर/पी.के.
image