Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 13:00 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

राममन्दिर बनना चाहिए या नहीं, कांग्रेस स्पष्ट करें - जावड़ेकर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 3 2018 7:02PM
राममन्दिर बनना चाहिए या नहीं, कांग्रेस स्पष्ट करें - जावड़ेकर
जयपुर, 03 नवम्बर (हि.स.)। राजस्थान सहित पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही राम मंदिर का मुद्दा गर्मा गया है। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश चुनाव प्रभारी एवं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने शनिवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए कांग्रेस से सवाल किया कि कांग्रेस अयोध्या में राम मंदिर चाहती है या नहीं, स्पष्ट करें। हालांकि जावडेकर ने राम मंदिर को भाजपा का चुनावी मुद्दा मानने से इनकार कर दिया। उसने कहा कि राम मंदिर आस्था का मुद्दा है। जावड़ेकर ने एक तरफ कांग्रेस सांसद शशि थरुर राम मंदिर को लेकर बयान देते हैं तो दूसरी ओर राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाब नबी आजाद कहते हैं कि राम मंदिर का मुददा कोई मुददा नहीं है। जावड़ेकर ने कहा राम मंदिर मुददा क्यों नहीं है? शशि थरुर के बयान के बाद कांग्रेस को जवाब देना चाहिए कि वह अयोध्या में राम मंदिर चाहती है या नहीं। हम नबी एवं अन्य कांग्रेस नेताओं से पूछना चाहते हैं कि आप इधर-उधर की बात नहीं करें, सीधी बात करो कि आपको रामजन्मभूमि पर राम मंदिर चाहिए या नहीं। एक प्रश्न के जवाब में जावडेकर ने कहा कि राम मंदिर कभी भी भाजपा का चुनावी मुददा नहीं रहा है। राम मंदिर आस्था का मुददा है और यह देश का मुददा है। प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जावडेकर ने कांग्रेस नेता गुलाम नबी के हर आरोपों का जवाब दिया। जावड़ेकर ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेता राजस्थान को बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं। नबी के राजस्थान के बीमारु राज्य के बयान पर जावड़ेकर ने कहा कि बीमार कांग्रेस राजस्थान को बीमारू समझ रहीं है। कांग्रेस के शासनकाल के दौरान राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ बीमारू राज्यों की श्रेणी में थे। भाजपा सरकारों के कार्यकाल में तीनों राज्यों ने तेजी से विकास किया। राजस्थान बीमारू राज्यों की श्रेणी से बाहर निकल चुका है। जावड़ेकर ने कहा कि नबी ने जयपुर को कचरे और गड्डों का शहर बता कर राजस्थान और राजस्थान की जनता को बदनाम किया है। रोजगार नहीं देने के नबी के बयान पर केंद्रीय मंत्री ने कहा कि रोजगार हर क्षेत्र में बढा है। टूरिज्म, आईटी, टेलीकॉम आदि क्षेत्रा में रोजगार बढा है। उन्होंने कहा कि मैं कांग्रेस नेताओं को चुनौती देता हूं कि वे रोजगार के मुद्दे पर मुझ से खुले मंच पर बहस करें। जावडेकर ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने 26 हजार शिक्षकों के नियुक्त पत्र जारी कर दिए थे। कांग्रेस ने चुनाव आयोग को शिकायत करके शिक्षकों की नियुक्ति रोक दी। कांग्रेस खुद युवाओं का रोजगार रोक रही है। कांग्रेस के शासनकाल के दौरान 2014 जयपुर क्लीन सिटी की रेकिंग में 215वें स्थान पर था। आज जयपुर की 39वीं रेंक है। हिन्दुस्थान समाचार/भागीरथ/ ईश्वर
image