Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 13:00 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कलेक्टर ने रिटर्निंग अधिकारियों से लिया चुनावी तैयारियों का फीडबैक

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 3 2018 6:37PM
कलेक्टर ने रिटर्निंग अधिकारियों से लिया चुनावी तैयारियों का फीडबैक
पाली, 03 नवम्बर (हि.स.)। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर सुधीर कुमार शर्मा ने शनिवार को जिले के सभी विधानसभा रिटर्निंग अधिकारियों एवं विभिन्न प्रकोष्ठ प्रभारियों की बैठक लेकर विधानसभा चुनाव 2018 के लिए अब तक की गई तैयारियों की समीक्षा की और आवश्यक निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने बिंदुवार विभिन्न तैयारियों पर चर्चा की और कहा कि निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए चुनाव कार्य को प्राथमिकता देें और समर्पण व निष्ठा के साथ दायित्व निर्वहन करें। मतदान केंद्रों का ले आउट तैयार कर वहां प्रत्येक आवश्यक सुविधा सुनिश्चित कर लें और देखें कि सभी मतदाता बिना किसी परेशानी के अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें। राज्य एवं जिला स्तर से चाही जाने वाली अद्यतन सूचनाएं समयबद्ध ढंग से भेजें तथा चुनाव कार्य में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं करें। यदि कोई अन्य अधिकारी, कर्मचारी चुनाव कार्य में लापरवाही करता है तो तत्काल उस पर कार्यवाही प्रस्तावित करें। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि चुनाव आयोग की ओर से आने वाले व्यय, स्वीप एवं सामान्य पर्यवेक्षकों को उपलब्ध कराए जाने वाली सूचनाएं तैयार रखें और समस्त तैयारियां सुनिश्चित कर लें। मॉडल बूथ आदि पर सभी व्यवस्थाएं आयोग के निर्देशानुसार हों, यह सुनिश्चित कर लें और प्रत्येक मतदान केंद्र पर व्हील चेयर आदि की व्यवस्था देख लें, ताकि दिव्यांग मतदाताओं को मतदान केंद्र पर किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो। नामांकन कार्य शुरू होने से पूर्व सभी प्रकार की आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित कर लें। मतदान दलों के प्रशिक्षण के लिए समुचित व्यवस्थाएं पहले से ही तैयार रखें ताकि समय पर किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़े। मतदान केंद्रों पर छाया, पानी, रैंप आदि की समुचित व्यवस्था रहनी चाहिए। आवश्यक होने पर बिजली का अस्थाई कनेक्शन लिया जा सकता है। शौचालयों में सफाई आदि की समुचित व्यवस्था दिखवा लें। जिन दूरस्थ क्षेत्रों में नेट कनेक्टिविटी की समस्या है, वहां वैकल्पिक व्यवस्था कराएं। मतदान दलों द्वारा मतदान संबंधी सभी सूचनाएं समय पर भिजवाई जा सकें, इसके लिए पहले से सभी तैयारियां सुनिश्चित कर लें। आदर्श मतदान केंद्र एवं महिला कार्मिकों वाले मतदान केंद्रों की व्यवस्थाएं विशेष तौर पर देख लें। मतदाता जागरुकता गतिविधियों में भी तेजी लाएं और देखें कि ज्यादा से ज्यादा लोगों में मतदान जागरुकता का प्रसार हो। एडीएम भागीरथ बिश्नोई ने ईआरओ नेट व ईआरएमएस पर दावों व आपत्तियों के पूर्ण निस्तारण, गूगल ड्राइव अपडेट, बूथ अवेयरनेस ग्रुप गठन, मतदान सहायता केंद्र स्टॉफ का चिन्हीकरण, बूथ लेवल कम्युनिकेशन प्लान का अपडेशन, संबंधित पुलिस अधिकारियों से समन्वय सहित विभिन्न बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की। एमसीएमसी के नोडल अधिकारी इन्दाराम मेघवंशी ने बताया कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रसारित होने वाले विज्ञापनों को लोकसभा रिटर्निंग अधिकारी स्तर पर बनी समिति से पहले अधिप्रमाणन कराना होगा। इसके लिए प्रसारण से 72 घंटे पूर्व समिति के समक्ष निर्धारित प्रपत्र में आवेदन करना होगा। सभी प्रकार के विज्ञापनों में लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 127 ‘क’ की पालना सुनिश्चित होनी चाहिए। सोशल मीडिया पर प्रसारित होने वाली सामग्री आदर्श आचार संहिता के दायरे में रहेगी। डीईओ विनोद कुमार शर्मा ने स्वीप गतिविधियों पर चर्चा की और कहा कि नुक्कड़ नाटक, सांस्कृतिक संध्या, मानव शृंखला, मशाल जुलूस, कैंडल मार्च आदि के जरिए ज्यादा से ज्यादा कार्यक्रम आयोजित करने के लिए कहा। इस दौरान सभी उपखंड मुख्यालयों से रिटर्निंग अधिकारियों ने फीडबैक दिया और निर्देशानुसार समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने का भरोसा दिलाया। इस दौरान डीआईजी स्टांप विशाल दवे, एसीईओ उदयभानु चारण, डीआईओ अनिल पुरोहित, एडीईओ के के राजपुरोहित, कृषि उपनिदेशक जितेंद्र सिंह शक्तावत, पाली आरओ महावीर सिंह, सुमेरपुर आरओ विनोद कुमार मल्होत्रा सहित संबंधित अधिकारी मौजूद थे। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर
image