Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 13:06 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

गृह मंत्री कटारिया ने रोहट में ली जोधपुर-पाली जिले की ग्राउंड रिपोर्ट

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 3 2018 6:39PM
गृह मंत्री कटारिया ने रोहट में ली जोधपुर-पाली जिले की ग्राउंड रिपोर्ट
पाली, 03 नवम्बर (हि.स.)। राजस्थान में विधानसभा चुनाव के लिए टिकट बंटवारे को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के बीच ठन जाने के बाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह के निर्देशों पर नए सिरे से प्रत्याशी चयन का आधार तैयार करने के लिए सर्वे शुरू हो गया है। शाह के निर्देश पर पार्टी के चुनिंदा प्रतिनिधि विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में पहुंचकर सशक्त और चुनाव जीतने वाले प्रत्याशियों की तलाश के लिए मंथन कर रहे हैं। जोधपुर व पाली जिले की सीटों पर नए सिरे से उम्मीदवारों के चयन के लिए गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने शनिवार को रोहट पहुंच कर दावेदारों और भाजपा पदाधिकारियों से मुलाकात की। उन्होंने जोधपुर संभाग के प्रभारी जसंवत सिंह सहित जोधपुर व पाली के पदाधिकारियों, वर्तमान विधायकों व दावेदारों से बंद कमरे में अलग-अलग बातचीत कर ग्राउंड रिपोर्ट ली। इस दौरान दोनों जिलों की सभी सोलह सीटों पर मंथन किया गया। जोधपुर संभाग की 33 सीटों पर पिछले चुनाव में सर्वाधिक 9 सीटें राजपूत, 7 दलित, 3 विश्नोई, 3 जैन, 3 पटेल, 2 जाट, 1 कुम्हार, 1 माली, 1 रेबारी, 1 सीरवी को दी गई थी। इस बार जाट समुदाय ने जोधपुर की लूणी व लोहावट विधानसभा क्षेत्र में टिकट देने की मांग की है। इससे भी जोधपुर जिले में वसुंधरा सरकार के मंत्री गजेंन्द्रसिंह खींवसर या लूणी विधायक जोगाराम का टिकट कटने की संभावना बनने लगी है। नए सिरे से की जा रही इस कवायद में टिकट की होड़ में अब तक पक्के माने जा रहे कुछ दावेदारों के समीकरण पूरी तरह से गड़बड़ा गए है। हालांकि उम्रदराज होने की वजह से कैलाश भंसाली, लादूराम विश्नोई, तरूण कागा व पब्बाराम विश्नोई के टिकट कट सकते है। पूर्व में सूरसागर विधायक सूर्यकांता व्यास का टिकट कटना तय माना जा रहा था, लेकिन आज हुए मंथन में सूर्यकांता को जीत वाला उम्मीदवार माना गया है। इसलिए इस पर विचार किया जा सकता। पोकरण विधायक शैतानसिंह, जालोर विधायक अमृता मेघवाल और सोजत विधायक संजना आगरी के टिकट कट सकते है। उनकी जगह कई नए नाम उभर कर सामने आ रहे है। जोधपुर जिले की शेरगढ़, ओसियां, बिलाड़ा, लोहावट, भोपालगढ़ में पार्टी वर्तमान विधायकों पर ही भरोसा जता रही है, लेकिन लोहावट में जाट समुदाय की दावेदारी से गजेन्द्र सिंह को ही मैदान में उतारा जा सकता है। जबकि फलोदी में वरिष्ठ नेता जसवंत सिंह विश्नोई कतार में है। जोधपुर शहर विधानसभा क्षेत्र से वर्तमान विधायक कैलाश भंसाली के भतीजे अतुल भंसाली, उप महापौर देवेन्द्र सालेचा व प्रसन्नचंद्र मेहता के नाम सामने आ रहे है। मुख्यमंत्री राजे भंसाली को तथा केंद्रीय मंत्री शेखावत सालेचा के पक्ष में है। दोनों नाम पर सहमति नहीं अभी तक नहीं बनी है भाजपा मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के सामने सरदारपुरा मे सशक्त उम्मीदवार की तलाश में जुटी है, जो गहलोत को मात दे सके। राजे की ओर से जेडीएम चेयरमेन महेंन्द्रसिंह राठौड़ का नाम है लेकिन पार्टी पूर्व मंत्री राजेंन्द्रसिंह गहलोत, ब्रह्मसिंह परिवार या नरेन्द्र सिंह कच्छवाह में से एक पर दांव खेल सकती है। सूरसागर विधासनभा क्षेत्र में पार्टी किसी नए चेहरे की तलाश की जा रही है, लेकिन आज रोहट में हुए मंथन में उम्रदराज होने के बावजूद सूर्यकांता व्यास को टिकट देने की पैरवी करने के बाद यहां समीकरण बदल सकते हैं। यहां पार्टी में महापौर घनश्याम ओझा, घनश्याम वैष्णव और हेमंत घोष के नाम चल रहे है। जाट समुदाय के टिकट की मांग करने की वजह से लूणी विधानसभा क्षेत्र में पार्टी जोगाराम पटेल के बजाय किसी जाट नेता को मैदान में उतार सकती है। कद्दावर जाट नेता व राज्य सभा सांसद रामनारायण डूडी को मैदान में उतारा जा सकता है। हिन्दुस्थान समाचार/रोहित/ ईश्वर
image