Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 13, 2018 | समय 03:52 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

निजी समारोह में शिरकत के बहाने हो रहा है नेताजी का प्रचार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 2 2018 8:21PM
निजी समारोह में शिरकत के बहाने हो रहा है नेताजी का प्रचार
झुंझुनू, 02 नवम्बर(हि.स.)। विधानसभा सभा चुनावों की तेज होती सरगर्मियों को लेकर जहां एक ओर प्रशासनिक अमला तैयारियों में जुटा हुआ है। तो वहीं चुनावी रणभेरी बजने के साथ ही नेताजी भी अब अपने प्रचार में कोई कोर कसर नहीं छोड़ना चाहते। तभी तो आचार संहिता के चलते नोताओं का प्रचार करने का तरीका बदल गया है। नेताओं ने आचार संहिता की पालना का तोड़ निकाल ही लिया है। नेताजी फिलहाल रैलियों और सभाओं की बजाय निजी समारोह में शिरकत कर अपने प्रचार अभियान को परवान चढ़ा रहे हैं। नेताओं की नजर फिलहाल हर तरह के शुभ-मांगलिक आयोजनों पर टिकी हुई है। नवनिर्मित भवन,प्रतिष्ठान और ऑफिस का उद्घाटन, नींव भराई कार्यक्रम, शादी, सगाई, दशोठण, सवामणी आदि ऐसे कार्यक्रम है जिनमें दूरदराज के रिश्तेदारों सहित अन्य लोगों की भीड़ देखी जा सकती है। इस भीड़ के बीच नेताजी बड़ी शान से पहुंचते हैं और यहां उनके बीच नेताओं के साथ उनके कार्यकर्ता नेताजी की खूब बड़ाई कर नेताजी के प्रचार को परवान चढ़ा देते हैं। बस इतने में नेताजी का उद्देश्य पूरा हो जाता है और लोग जब तक नेताजी आयोजन में मौजूद रहते हैं, उन्हें घेरे रहते हैं। विधानसभा चुनावों को लेकर जहां एक ओर प्रशासन ने कमर कस ली है। वही देखा जाए तो बाजारों में भी चुनावी तैयारियां जोरों पर नजर आ रही है। व्यापारियों की माने तो बाजारों में पचरंगी साफा, सफेद कुर्ता आदि की खूब मांग की जा रही है। इधर त्यौहारी सीजन के साथ ही चुनावी समय में फूल मालाओं की खूब बिक्री हो रही है और ऐसे में जल्द ही फूलों के मूल्य भी बढ़ सकते हैं और चुनावी माहौल में फूलों के तेवर भी तीखे हो सकते हैं। विधानसभा चुनावों में अभी एक माह का ही समय बचा है। लेकिन काफी समय से अपनी टिकट को निश्चित मानकर बैठे अधिकतर नेता भी चुनावी मैदान में अपने प्रचार को परवान चढ़ा रहे हैं। तो वहीं टिकट की आस में कई नेताजी लोगों के घर-घर जाकर अपना परिचय देकर टिकट मिलने पर वोट देने की अपील करते नजर आ रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार / रमेश/ ईश्वर
image