Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 13:35 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

जाट बाहुल्य सीटों पर 'पंचायती' को लेकर पायलट-डूडी में ठनी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 2 2018 1:10PM
जाट बाहुल्य सीटों पर 'पंचायती' को लेकर पायलट-डूडी में ठनी
बीकानेर, 02 नवम्बर (हि.स.)। विधानसभा चुनाव में टिकट वितरण को लेकर कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट और विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी में ठन गयी है। बताया जा रहा है कि इसी वजह से डूडी दिल्ली से बीकानेर लौट आए हैं। बताया यह भी जा रहा है कि डूडी न केवल बीकानेर की सभी सातों विधानसभा क्षेत्र ही नहीं बल्कि राजस्थान की जाट बाहुल्य सीटों पर अपनी ''पंचायती'' चाहते हैं क्यूंकि साफ तौर पर देखा जाए तो वर्तमान में कांग्रेस में जाट नेतृत्व इस समय उनके पास ही है। कांग्रेस के अन्य बड़े नेता जाटों को टिकट तो देना चाहते हैं लेकिन डूडी की इच्छा के मुताबिक नहीं। पता चला है कि कुछ सीटों पर जरुर डूडी की चल रही है लेकिन सभी सीटों पर नहीं इसीलिए खबरों के साथ ''सुरसुराहट'' यह भी आगे बढ़ रही है कि पायलट और डूडी में जबरदस्त ठनी है। हालांकि बीकानेर आए डूडी ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए पायलट से अनबन की खबरों का खंडन करते हुए कहा कि पार्टी के नेता हर हाल में एक ही है और भाजपा को किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ लड़कर हराएंगे। उधर कांग्रेस में डूडी भले ही राजस्थान की सीटों पर राजनीति करने में जुटे हुए हैं लेकिन भाजपा उन्हेें उनके विधानसभा क्षेत्र नोखा में घेरने के लिए हरसंभव कोशिश कर रही है। पिछले चुनाव में तीस हजार से अधिक वोटों से जीते डूडी को हराना भाजपा के लिए हालांकि आसान नहीं है लेकिन कन्हैयालाल झंवर और बिहारीलाल बिश्नोई अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे तब तक डूडी की लम्बे अंतराल से जीत आसान नजर आ रही है। अगर झंवर और बिश्नोई एक साथ लड़े तो डूडी के तीस हजार के अंतर को पाटना आसान नहीं है। फिर भी न केवल भाजपा बल्कि कांग्रेस के कई नेता डूडी को घेरने के लिए अंदर ही अंदर जुटे हुए हैं। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/ ईश्वर
image