Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 08:36 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

''मगरे के शेर'' की सक्रियता दे सकती है नई राजनीतिक घटना को जन्म

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 25 2018 5:21PM
'मगरे के शेर' की सक्रियता दे सकती है नई राजनीतिक घटना को जन्म

राजीव जोशी

बीकानेर। पश्चिमी राजस्थान में 'मगरे के शेर' नाम से मशहूर भाजपा के कद्दावर नेता एवं पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी की हाल के दिनों में कोलायत विधानसभा क्षेत्र में बढ़ी सक्रियता एक नई राजनीतिक घटना को जन्म दे सकती है। हालांकि, भाटी कई बार यह ऐलान कर चुके है कि वे इस बार चुनाव नहीं लड़ेंगे। लेकिन उनके समर्थक यह मानने को तैयार नहीं है। बहरहाल, गुरुवार को जिले के श्रीकोलायत से काफी दूर गांव बरसलपुर में भाटी परिवार फिर से एकजुट नजर आया। इस दौरान खुद देवी सिंह भाटी एवं उनके पौत्र अंशुमान सिंह भाटी, कोलायत प्रधान जयवीर सिंह हाड़ला, हुकमाराम विश्नोई, बबरूभान सिंह भाटी, जीवनराम विश्नोई सहित बरसलपुर भाटी परिवार के मौजिज लोग मौजूद थे।

भाजपा कोलायत महामंत्री डूंगर सिंह तेहनदेसर ने बताया कि बरसलपुर के 95आरडी गांव में पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी की अध्यक्षता में हुए कार्यक्रम में बरसलपुर परिवार के सदस्यों ने भाजपा का दामन थामा। युवा नेता अंशुमान सिंह भाटी ने माल्यार्पण कर बरसलपुर परिवार के मुख्य राव सुरेंद्र सिंह, विक्रम सिंह, दलवीर सिंह, महेंद्र सिंह, पूर्व सरपंच लड्डू, शिव सिंह, धर्मसिंह आदि को कार्यकर्ताओं सहित भाजपा की सदस्यता ग्रहण करवाई। कार्यक्रम में बरसलपुर परिवार के धरम सिंह, सुरेंद्र सिंह, दलबीर सिंह, महेंद्र सिंह ने एकस्वर में कहा कि हमारा पूरा परिवार एक है और पूरी ताकत के साथ विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को माकूल जवाब दिया जाएगा। आगामी चुनाव में पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी को भारी मतों से जिताया जाएगा। बता दें कि भाटी के चुनाव नहीं लडऩे की अटकलों के बीच यह खबर भी आ रही है कि वे चुनाव खुद लड़ें या फिर किसी अन्य चेहरे को उतारे, लेकिन क्षेत्र में धुरी तो वे ही रहेंगे, इसमें कोई दो राय नहीं।

 

image