Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 08:34 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

उदयपुर संभाग में मुस्लिम समुदाय ने मांगी एक सीट

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 21 2018 6:32PM
उदयपुर संभाग में मुस्लिम समुदाय ने मांगी एक सीट

सुनीता कौशल

उदयपुर, 21 अक्टूबर (हि.स.)। उदयपुर संभाग के मुस्लिम समुदाय ने उदयपुर अंजुमन तालीमुल इस्लाम के बैनर तले चुनाव से पहले अपनी मांगों का मोर्चा खोल दिया है। मुस्लिम समुदाय ने संभाग की 28 सीटों में से एक सीट पर समुदाय के लिए टिकट मांगा है। समुदाय ने स्पष्ट कहा है कि जो समुदाय की मांगों को तवज्जो देगा, समुदाय उसी राजनीतिक दल का अपना समर्थन देगा।

अंजुमन तालीमुल इस्लाम के सदर और भाजपा के पूर्व पार्षद मोहम्मद खलील ने रविवार को यहां लेकसिटी प्रेस क्लब में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि समुदाय दोनों ही प्रमुख राजनीतिक दलों से यह मांग करता है कि वह पूरे संभाग में एक सीट पर समुदाय के प्रतिनिधि को टिकट दे। खलील ने इसके अलावा स्थानीय निकायों में भी हिस्सेदारी मांगी है। उन्होंने कहा कि संभाग में कहीं भी नगर निगम, नगर परिषद, नगर विकास प्रन्यास आदि स्थानीय निकायों में प्रमुख पदों पर मुस्लिम समुदाय को तवज्जो नहीं दी जाती। मुस्लिम समुदाय मांग करता है कि विधानसभा चुनाव से पहले प्रमुख राजनीतिक दल समुदाय से यह वादा करें। इसी तरह, खलील ने उदयपुर नगर निगम में आगामी चुनावों के दौरान कुल 55 वार्डों में से 10 वार्डों में मुस्लिम प्रतिनिधियों को पार्षद का टिकट और महत्वपूर्ण समितियों में अध्यक्ष के पद की भी मांग की है।

खलील ने बताया कि उदयपुर शहर में मल्लातलाई क्षेत्र में दो, खांजीपीर में दो, आयड़ में एक, सिलावटवाड़ी में दो, सवीना में एक, पायड़ा लुहार कॉलोनी में एक व मेवाफरोश-कुंजरावाड़ी क्षेत्र में एक सीट मुस्लिम बहुल क्षेत्र में आती है, ऐसे में वहां का प्रतिनिधित्व मुस्लिम समुदाय को मिलना चाहिए। पत्रकार वार्ता के दौरान मुस्लिम महासंघ, मुस्लिम महासभा, नौजवान मेवाफरोशान इंतेजामिया सोसायटी आदि संगठनों के पदाधिकारी मौजूद थे।
वार्ता के दौरान चारों पार्षदों की अनुपस्थिति रही चर्चा में

-पत्रकार वार्ता के दौरान मुस्लिम समुदाय के विभिन्न संगठनों के प्रतिनिधि तो मौजूद थे, लेकिन मौजूदा पार्षद कांग्रेस के मोहसिन खान, कांग्रेस के राशिद खान, निर्दलीय लेकिन बाद में कांग्रेस में शामिल नजमा मेवाफरोश और उपचुनाव में जीती कांग्रेस की शाहीन निशा सहित पूर्व पार्षदों की अनुपस्थिति चर्चा का विषय रही। दरअसल, उदयपुर शहर के विभिन्ना वार्डों में वैसे ही हर बाद चार से पांच पार्षद मुस्लिम ही चुने जाते हैं। दस पार्षदों की मांग के दौरान इन सभी की समाज के साथ अनुपस्थिति पर सवाल भी उठे।

 

image