Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 08:26 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अजमेर संभाग के टिकटों पर भाजपा की रायशुमारी कल से

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 19 2018 2:08PM
अजमेर संभाग के टिकटों पर भाजपा की रायशुमारी कल से

संतोष

अजमेर। राजस्थान विधानसभा चुनाव के मद्देनजर अजमेर की आठ सीटों सहित संभाग की सभी 29 सीटों के लिए राजधानी जयपुर में भाजपा की रायशुमारी शनिवार से शुरू होगी। रायशुमारी 23 अक्टूबर तक चलेगी। अनुमान है कि भाजपा आलाकमान किसी भी राजनेता की दीपावली खराब करना नहीं चाहेगा। इसलिए उम्मीद की जा रही है कि दीपावली के अगले दिन तक अजमेर संभाग के उम्मीदवारों की पहली सूची जारी हो जाए। यूं भी भाजपा ने 14 अक्टूबर को रणकपुर से शुरू किया रायशुमारी अभियान का पहला चरण पूरा कर लिया है।

दूसरे चरण में भरतपुर, अजमेर व जयपुर संभाग की ही रायशुमारी होनी है। प्रदेश नेतृत्व को भी पता है कि भाजपा की जिला और मंडल कार्यकारिणी में विधायकों के दखल से ही पदाधिकारी मनोनीत होते रहे हैं| ऐसे में सही फीडबैक नहीं मिल सकेगा। इसलिए पार्षद से लेकर जिला परिषद के सदस्यों तक को राय देने वालों में शामिल किया गया है। पूर्व मंडल अध्यक्ष भी इसीलिए बुलाए गए हैं। जिले के 8 विधानसभा क्षेत्रों से फीडबैक देने करीब 500 कार्यकर्ता और पदाधिकारी जयपुर जा रहे हैं।

अजमेर शहर अध्यक्ष अरविंद यादव की मानें तो इनमें अजमेर दक्षिण और उत्तर विधानसभा क्षेत्रों के ही करीब 150 कार्यकर्ता फीडबैक के लिए चिन्हित किए गए हैं| इनमें भाजपा के पार्षद भी शामिल हैं। बकौल देहात अध्यक्ष बीपी सारस्वत, शेष 6 विधानसभा क्षेत्रों से तीन सौ कार्यकर्ताओं को चिन्हित किया गया है। इसके अलावा भीलवाड़ा की सात सीटों के लिए, नागौर की 10 सीटों के लिए तथा टोंक की 4 सीटों के लिए रायशुमारी में सैंकड़ों वर्तमान व पूर्व भाजपा पदाधिकारी व कार्यकर्ता हिस्सा लेने जयपुर पहुंच रहे हैं।

इस बार भीलवाड़ा की शाहपुरा सीट से विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल के उम्रदराज होने के कारण टिकट की दौड़ में बाहर होने आसार हैं, भीलवाड़ा शहर से मौजूदा विधायक एवं हैट्रिक बनाने को तैयार विटठ्ल शंकर अवस्थी, पूर्व मंत्री कालूलाल गुर्जर, मांडल गढ़ से उपचुनाव हारे भाजपा के जिला प्रमुख शक्ति सिंह हाड़ा को फिर उम्मीदवार बनाया जाता है अथवा नहीं, देखने लायक है। नागौर जिले के लाडनू विधायक मनोहर सिंह अस्वस्थ व वृद्धावस्था के कारण टिकट की दौड़ से बाहर हो सकते हैं।

सहकारिता मंत्री डेगाना विधायक अजय सिंह किलक, डीडवाना विधायक व यातायात मंत्री युनूस खान का टिकट सलामत रहता है या क्षेत्र बदला जा सकता है, इस पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं। अलबत्ता रायशुमारी को लेकर चुनावी मौसम में भाजपा के छोटे कार्यकर्ता की भी कद्र होने लग गई है। जिस विधानसभा क्षेत्र में जितने ज्यादा दावेदार है, उस क्षेत्र के कार्यकर्ता का उतना ही सम्मान होने लगा है। नेताजी को भी अब वह आम कार्यकर्ता खास लगने लगा है जो कल तक अपने क्षेत्र के लोगों के सरकार से काम निकलवाने के लिए जेब में अर्जियां लिए उनकी चौखट पर हाथ जोड़े खड़े रहा करता था। अब सरकार उन कार्यकर्ताओं की चौखट पर जाकर हाथ जोड़ने को मजबूर है। 

image