Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, नवम्बर 21, 2018 | समय 23:54 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर मंत्रियों का समूह करेगा फैसला: शिव प्रताप शुक्ल

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 22 2018 9:21PM
न्यूनतम समर्थन मूल्य पर मंत्रियों का समूह करेगा फैसला: शिव प्रताप शुक्ल

देहरादून, 22 जून (हि.स.)। केन्द्रीय वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ल ने शुक्रवार को साफ किया कि किसानों को उनकी लागत से डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने के लिए तीन मंत्रियों का एक समूह विचार कर रहा है। मंत्री समूह के सुझाव आने के बाद इस बारे में निर्णय किया जाएगा। राजावाला में स्थित इंडियन पब्लिक स्कूल में आयोजति हिन्दुस्थान समाचार न्यूज एजेंसी के वार्षिक समारोह में बोलते हुए उन्होंने जीएसटी के महत्व और उसकी सफलता पर विस्तार से बात की और इस संबंध में उठने वाले सवालों के जवाब भी दिए। उन्होंने जीएसटी की सफलता के आंकड़े पेश करते हुए कहा कि मार्च में 1 लाख 3 हजार करोड़ रुपये जीएसटी मिला, अप्रैल में भी 95000 करोड़ जीएसटी जमा हुआ, जबकि यह पहले 80000 करोड़ के ऊपर कभी नहीं गया था। केन्द्रीय वित्त राज्यमंत्री एक सवाल के जवाब में कहा कि किसानों को कॉस्ट-2 फार्मूले के आधार पर उनकी लागत से डेढ गुना ज्यादा कीमत भी मिले और राजकोषीय घाटा भी न बढ़े, इसके लिए सुझाव देने को 3 मंत्रियों का समूह काम कर रहा है। शुक्ल ने कहा कि हमारी सरकार के दो बड़े फैसलों पर लोग हमेशा से सवाल उठाते रहे हैं। इनमें से एक नोटबंदी है तो दूसरा जीएसटी को लागू करना। 4 साल के छोटे से कार्यकाल में आर्थिक मोर्चे पर इतने कड़े और साहसिक फैसला लेना आसान काम नहीं था। नोटबंदी का कुछ राजनीतिक दलों और वर्गों को छोड़कर आम जनता ने स्वागत किया। कुछ दिन लोगों ने परेशानी उठाई पर आज उसका परिणाम सबके सामने है। तिजोरियों में बंद पड़ी नगदी का आज देश के विकास कार्यों में उपयोग हो रहा है। जीएसटी पर सवालों का जवाब देते हुए केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि सिंगापुर जैसे छोटे देश को जीएसटी लागू करने में 7 साल का समय लगा। जबकि भारत में मात्र 6 महीने में हम इसके लाभ समझाने में सफल रहे। जीएसटी काउंसिल ने समय समय पर आए सुझावों पर आम सहमति से फैसले किए और व्यापारियों को आ रही कठिनाइयों को दूर किया। जीएसटी का रिफंड मिलने में आ रही कठिनाई को भी समय रहते दूर किया। अब लोग तेजी से जीएसटी अपना रहे हैं। हिन्दुस्थान समाचार/जितेन्द्र/आकाश

image