Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, सितम्बर 23, 2018 | समय 02:36 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कुमार स्वामी आज पहुंचेंगे दिल्ली, कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष की दौड़ में जयचंद्रा भी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jun 16 2018 5:53PM
कुमार स्वामी आज पहुंचेंगे दिल्ली, कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष की दौड़ में जयचंद्रा भी
नई दिल्ली, 16 जून (हि.स.)। कर्नाटक में गठबंधन की सरकार बनने के बाबजूद तरह-तरह की हो रही कयासबाजी के बीच एक ओर जहां मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी शनिवार शाम दिल्ली पहुंच रहे हैं वहीं दूसरी ओर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए जारी दौड़ में एक नया मोड़ आ गया है। कर्नाटक कांग्रेस के वरिष्ठ कांग्रेस नेता टी बी जयचंद्रा ने स्वयं के लिए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद की आकांक्षा जाहिर की है। हालांकि उन्होंने ये भी खुलासा किया कि इस मसले पर पार्टी के शीर्ष नेताओं ने अन्य प्रतिनिधियों संग कई दौर की चर्चा कर ली है। अंतिम फैसला आलाकमान को लेना है। जयचंद्रा ने शनिवार को कहा, ‘मैं युवावस्था से पार्टी के लिए पूरी निष्ठा एवं समर्पण भाव से काम कर रहा हूं। अगर मुझे जिम्मेदारी दी जाती है तो मैं बेहतर क्षमता से अपने कर्तव्य का निर्वहन करूंगा।‘ दरअसल कांग्रेस-जनता दल(सेक्युलर) गठबंधन सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार अथवा फेरबदल को लेकर नेताओं के बीच आपसी सामन्जस्य बैठाने और लोकसभा चुनाव की तैयारियों के मद्देनजर कांग्रेस हाईकमान कर्नाटक में उपयुक्त प्रदेश अध्यक्ष की तलाश में है। पार्टी विधानसभा चुनाव में हुई 'चूक' लोकसभा चुनाव में दोहराने का जोखिम नहीं लेना चाहती। इसी रणनीति के तहत पार्टी नये चेहरे की तलाश में जुटी है। इस रेस में जहां पूर्व केंद्रीय मंत्री लोकसभा सांसद के एच मुनियप्पा प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं वहीं राज्यसभा सांसद पूर्व पार्टी महासचिव बीके हरिप्रसाद, राजीव गौड़ा समेत कई नेताओं के नाम भी हैं। हालांकि कर्नाटक कांग्रेस में नये अध्यक्ष पद की नियुक्ति से पहले मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव तक इस गठबंधन के न टूटने का दावा कर दिया है। कांग्रेस-जेडीएस की सरकार बनने के बाद गठबंधन को लेकर उठ रहे सवालों के सिलसिले में मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने कहा, ‘यह गठबंधन सरकार स्थिरता से चलेगी। मैं जानता हूं कि एक साल तक मुझे कोई छू नहीं सकता। मैं कम से कम एक साल, लोकसभा चुनाव होने तक यहां रहूंगा। तब तक मेरा कोई कुछ नहीं कर सकता।’ हालांकि मुख्यमंत्री के दिल्ली पहुंचने पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के साथ उनकी मुलाकात के कयास लगाए जा रहे हैं। दरअसल कर्नाटक मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर कांग्रेस और जेडीएस के बीच खींचतान का दौर अभी थमा नहीं है। हिन्दुस्थान समाचार/प्रीतकिरन/दधिबल
image