Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 13, 2018 | समय 03:43 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

निर्वाचन कार्यों में लापरवाही, दो शिक्षक निलंबित, 14 कर्मियों को थमाए नोटिस

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 22 2018 2:23PM
निर्वाचन कार्यों में लापरवाही, दो शिक्षक निलंबित, 14 कर्मियों को थमाए नोटिस

मुकेश

नरसिंहपुर/कटनी। विधानसभा निर्वाचन- 2018 के तहत निर्वाचन कार्यों में लापरवाही बरतने और निर्वाचन नियमों व निर्देशों के उल्लंघन के आरोप में नरसिंहपुर के जिला पंचायत सीईओ आरपी अहिरवार ने शासकीय प्राथमिक शाला मोहद के सहायक शिक्षक मूलचंद्र धानका और शासकीय माध्यमिक शाला मोहद के अध्यापक कमलेश दुबे को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है।

कटनी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी केवीएस चौधरी ने निर्वाचन कार्य में लापरवाही व कोताही बरतने वाले 14 अधिकारियों व कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। जिला पंचायत सीईओ अहिरवार ने सोमवार को बताया कि विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र नरसिंहपुर के मतदान केन्द्र क्रमांक 238 पर सहायक शिक्षक मूलचंद्र धानका और मतदान केन्द्र क्रमांक 239 पर अध्यापक कमलेश दुबे को बीएलओ नियुक्त किया गया था। इन मतदान केन्द्रों के निरीक्षण के दौरान धानका एवं दुबे दोनों कर्तव्य स्थल पर नहीं मिले। साथ ही उनके मतदान केन्द्र की लिखावट भी सही नहीं की गई।

मतदान केन्द्र का नाम गलत लिख दिया गया था, जिसे निर्वाचन नियमों व निर्देशों का उल्लंघन मानते हुए दोनों शिक्षकों के निलंबन आदेश जारी किये गये। ये आदेश मध्यप्रदेश सिविल सेवा वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील नियम 1966 के नियम 9 के तहत जारी किये गये हैं। निलंबन अवधि में धानका और दुबे का मुख्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय करेली रहेगा। उन्हें नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।

उधर, कटनी जिला निर्वाचन अधिकारी केवीएस चौधरी ने बताया कि जिन 14 अधिकारियों-कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया है, उन सभी ड्यूटी विधानसभा निर्वाचन 2018 एसएसटी व एफएसटी दल में व्यय अनुवीक्षण की निगरानी के लिये लगाई गई थी| लेकिन इन अधिकारी-कर्मचारियों द्वारा कर्तव्य में उपस्थित न होकर सौंपे गये दायित्वों का निर्वहन नहीं किया जा रहा है।

गत 18 अक्टूबर को मोबाइल पर संपर्क करने के दौरान संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों के मोबाइल कवरेज क्षेत्र से बाहर या बंद पाये गए थे। साथ ही इनके द्वारा प्रतिदिन की रिपोर्ट भी जिला निर्वाचन कार्यालय को प्रस्तुत नहीं की जा रही है। इस पर उन्होंने संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों को निर्वाचन जैसे महत्वूपर्ण कार्य में लापरवाही एवं अनुशासनहीनता का द्योतक पाते हुए यह कार्यवाही की है।

उन्होंने कारण बताओ सूचना पत्र जारी जारी कर लोक प्रतिनिधित्व अधिनिम 1950 की धारा 32 तथा लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम 1951 की धारा 134 के तहत कार्यवाही किये जाने के संबंध में जवाब तलब किया है। जिन कर्मियों को नोटिस जारी किया गया है, उनमें सहायक प्राध्यापक शासकीय माध्यमिक विद्यालय बरही राजेश कुमार त्रिपाठी, माइनिंग कॉर्पोरेशन कटनी के प्रबंधक हरगोविंद सिंह, कनिष्ठ प्रबंधक माईनिंग कॉर्पोरेशन रामसुमिरन वर्मा, हरिशंकर शुक्ला, पन्ना लाल सोनी, प्रेमलाल द्विवेदी व सुनील कुमार पाठक, सहायक यंत्री पीडब्ल्यूडी नरेन्द्र कुमार अग्रवाल शामिल हैं।

इसके साथ ही अनुविभागीय अधिकारी पीडब्ल्यूडी विनोद चौबे, सहायक यंत्री नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण गुलाब सिंह राजपूत, एसडीओ जलसंसाधन ब्रजेश कुमार विश्वकर्मा, सहायक कार्यालय प्रबंधक आयुध निर्माणी आत्म प्रकाश, व्याख्याता पॉलीटेक्निक शशांक जैन एवं एसडीओ पीएचई पी.सी. विश्वकर्मा शामिल हैं।

image