Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 03:48 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

सीएम ने सिवनीमालवा से डॉ. शर्मा का नाम आगे कर सरताज से पूछी पसंद

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 6 2018 2:39PM
सीएम ने सिवनीमालवा से डॉ. शर्मा का नाम आगे कर सरताज से पूछी पसंद
होशंगाबाद, 06 नवम्बर (हि.स.)। होशंगाबाद जिले की सिवनीमालवा विधानसभा सीट से लगातार दो बार चुनाव जीतने वाले भाजपा के वरिष्ठ नेता सरताज सिंह को पार्टी ने उम्र का हवाला देते हुए मंत्रिमंडल से बाहर किया था। अब उन्हें विधानसभा चुनाव में टिकट की कतार से भी पार्टी ने बाहर कर दिया है। हालांकि, पार्टी ने अभी इस सीट को होल्ड पर रखा है, लेकिन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने यहां से नर्मदा अस्पताल के संचालक डॉ. राजेश शर्मा का नाम आगे बढ़ाते हुए इस पर सरताज सिंह की राय ली है। दरअसल, सिवनी मालवा सीट को भाजपा ने अभी तक होल्ड पर रखा है और यहां से लगातार अपराजेय रहे सरताज सिंह के पार्टी के खिलाफ बयान भी सामने रहे थे। इसीलिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वयं सरताज सिंह ने मंगलवार को उनकी राय जानी। इस दौरान उन्होंने सिवनी मालवा सीट से डॉ. राजेश शर्मा का नाम आगे बढ़ाते हुए इस पर सरताज सिंह की पसंद पूछी। इससे यह तय हो गया है कि यहां से भाजपा ने सरताज सिंह को टिकट के दावेदारों से बाहर कर दिया है और उनकी पसंद के उम्मीदवार को यहां से टिकट देने पर पार्टी विचार कर रही है। बता दें कि करीब दो साल पहले भाजपा के दो बुजुर्ग मंत्रियों बाबूलाल गौर और सरताज सिंह को उम्र का हवाला देते हुए मंत्रिमंडल से बाहर का रास्ता दिखा दिया था। इसी समय साफ हो गया था कि पार्टी अब इन्हें आगामी चुनावों में टिकट नहीं देगी। बाबूलाल गौर भोपाल की गोविन्दपुरा सीट से दस बार चुनाव जीत चुके हैं और कांग्रेस का गढ़ मानी जानी सिवनीमालवा सीट से सरताज सिंह लगातार दो बार विधायक चुने गए। ऐसे में इन दोनों सीटों पर भाजपा को उम्मीदवार तय करने में काफी दिक्कतें हो रही हैं। भाजपा की दोनों सूचियों में इन दोनों सीटों को होल्ड पर रखा है। सरताज सिंह और बाबूलाल गौर का नाम नहीं आने से उनकी संगठन के प्रति नाराजी चरम पर है। पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की गोविंदपुरा सीट और पूर्व मंत्री सरताज सिंह की सिवनी मालवा सीट पर कश्मकश की स्थिति बनी होने से पार्टी की किरकिरी भी हो रही है। ऐसे में पार्टी ने दोनों नेताओं को मनाने के प्रयास किये हैं, इसके बावजूद दोनों ही नेता बगावती तेवर दिखा रहे हैं। इस बीच खबर है कि सरताज सिंह का टिकट कटना तय है, उन्हीं से इस सीट पर किसी अन्य दावेदार का नाम पूछा गया है, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मंगलवार को उनसे फोन पर बातचीत की और उनसे उनकी राय पूछी। पार्टी के सामने सरताज ने स्पष्ट कर दिया है कि सिवनी मालवा से टिकट कटने की स्थिति में कार्यकर्ताओं और जनता से राय-मशविरा कर निर्णय करूंगा। तोमर ने सरताज से पूछा कि टिकट किसे दें, नया नाम बताएं। इस पर सरताज ने अपनी ओर से एक नाम बता दिया, लेकिन उस नाम का खुलासा नहीं किया है। इससे सरताज को संकेत मिल चुके हैं कि उनका टिकट कट गया है। इस बीच खबर है कि सिवनी मालवा से सरताज की जगह डॉ. राजेश शर्मा को सिवनी मालवा से टिकट मिलेगा। डॉक्टर राजेश, नर्मदा हॉस्पिटल के संचालक हैं। वे मंगलवार को सरताज के घर आशीर्वाद लेने पहुंचे थे, लेकिन सरताज सिंह ने उन्हें आशीर्वाद नहीं दिया। मुख्यमंत्री ने भी सरताज से फोन पर बात कर डॉ. राजेश शर्मा की दावेदारी पर राय ली। सरताज ने नए प्रत्याशी को लेकर इंकार किया है, उन्होंने कहा है कि इस संबंध में मेरी पहले बातचीत हो चुकी है। हिन्दुस्थान समाचार/आत्मराम/मुकेश/बच्चन
image