Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 02:44 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कड़े मुकाबले वाली सीटों पर जनता की पैनी नजर, कौन होंगे उम्मीदवार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 5 2018 1:53PM
कड़े मुकाबले वाली सीटों पर जनता की पैनी नजर, कौन होंगे उम्मीदवार
इंदौर, 05 नवम्बर (हि.स.)। विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा-कांग्रेस दोनों ही दलों ने अपनी पहली सूची जारी कर दी है। इन सूची में शहरी क्षेत्र की रोचक विधानसभा सीटों पर दोनों ही दलों का उम्मीदवार कौन होगा यह स्थिति अब तक साफ नहीं हो पाई है। हालांकि, कांग्रेस ने महू, सांवेर, राऊ सीट पर अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया है, वहीं इंदौर की तीन नंबर विधानसभा के लिए कांग्रेस ने पूर्व विधायक अश्विन जोशी पर एक बार फिर से भरोसा जताया है। अब शहरवासियों को बाकी बची विधानसभा सीटों पर उम्मीदवार फाइनल होने का इंतजार है। चुनाव परिणाम को लेकर तो आमजन अलग-अलग कयास लगा टकटकी लगाए बैठे हैं, मगर इससे पहले सबकी निगाहें इंदौर की रोचक विधानसभा सीटों पर लगी है। इन रोचक सीटों पर अब तक भाजपा और कांग्रेस दोनों ही प्रमुख दल अपने-अपने उम्मीदवारों की घोषणा नहीं कर पाए हैं। शहरवासियों का पूरा ध्यान प्रत्याशियों की घोषणा पर लगा हुआ है। ऐसा नहीं कि केवल आमजन में अपनी विधानसभा सीट को लेकर ही चर्चा है, बल्कि उनकी चर्चा इंदौर की सभी रोचक विधानसभा सीटों को लेकर है। अब देखना यह है कि रोचक सीटों पर भाजपा और कांग्रेस कब तक अपने उम्मीदवार फाइनल कर पाती है। इन तीन विधानसभा पर है सभी की निगाह इन सीटों में इंदौर विधानसभा क्षेत्र-1 और विधानसभा क्षेत्र-5 के अलावा विधानसभा क्षेत्र-4 शामिल हैं। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों से इन तीनों ही सीटों पर एक ही अनेक नेताओं ने अपनी-अपनी दावेदार जताई है। ऐसे में दोनों ही पार्टियों के सामने समस्या है कि वे किसे टिकट दें और किसे नहीं। सबसे पहले बात करें विधानसभा एक की तो यहां भाजपा और कांग्रेस दोनों के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिलेगी। भाजपा की बात करें तो यहां वर्तमान विधायक सुर्दशन गुप्ता फिर से टिकट के लिए ताल ठोक रहे हैं। हालांकि भाजपा के अंदर ही कई नेता यहां से उनकी खिलाफत कर टिकट कटवाने में डटे हैं। हालांकि गुप्ता अपने टिकट को लेकर आश्वस्त नजर आ रहे हैं। वहीं कांग्रेस की बात करें तो इस सीट पर चुनाव लड़ने वाले तीन दावेदार हैं। इनमें संजय शुक्ला, कमलेश खंडेलवाल और गोलू अग्निहोत्री प्रमुख हैं। इन तीन में से ही कोई एक कांग्रेस का उम्मीदवार होगा, मगर कुछ भी स्थिति अब तक साफ नहीं हो पाई है। बात करें विधानसभा 2 की तो इस बार इस सीट पर भी सभी की निगाहें हैं। चार नंबर विधानसभा सीट की बात करें तो यह भी भाजपा की गढ़ वाली सीट मानी जाती है, मगर इस बार यहां भी टिकट को लेकर अंतर्कलह मची हुई है। भाजपा के कुछ नेता चाहते हैं कि मालिनी गौड़ को चार नंबर से हटाकर कहीं और से चुनाव लड़वाया जाए ताकि यहां से किसी और नेता को मौका मिल सके। यह सीट गौड़ परिवार की परंपरागत सीट मानी जाती रही है। पहले यहां से लक्ष्मणसिंह गौड़ विधायक बने थे और फिर बाद में मालिनी गौड़ को भाजपा ने मौका दिया। यहां मालिनी गौड़ के अलावा शंकर लालवानी का नाम भी दावेदार के रूप में चल रहा है। वहीं बात करें कांग्रेस की तो यहां पार्टी के पास कोई बड़ा चेहरा नहीं है। हालांकि सुरजीत सिंह चड्ढा और प्रीतम माटा का नाम चार नंबर से चल रहा है। हालांकि कांग्रेस की जो सूची वाट्सअप पर फर्जी तरीके से चलाई गई थी, उसमें गोलू अग्निहोत्रि की पत्नी प्रीति अग्निहोत्री का नाम चार नंबर से प्रत्याशी के रूप में था। कांग्रेस के सबसे ज्यादा दावेदार हैं यहां शहर की सबसे रोचक विधानसभा सीट पांच नंबर विधानसभा है, जहां भाजपा की स्थिति कुछ ठीक नहीं हैं। दरअसल वर्तमान विधायक महेंद्र हार्डिया का यहां पर विरोध चल रहा है। ऐसे में भाजपा प्रत्याशी बदलने पर विचार कर रही है, जिसके चलते यह सीट अब तक होल्ड पर है। वहीं कांग्रेस में इस सीट से दावेदारी करने वाले नेताओं की लिस्ट सबसे लंबी है। इस सीट से करीब 12 नेता दावेदारी कर रहे हैं, मगर दावेदारों में चल रही दौड़ में पंकज संघवी का नाम प्रबल रूप से चल रहा है। मगर दोनों ही पार्टियों ने अब तक इस सीट पर अपना प्रत्याशी घोषित नहीं किया है। ऐसे में रोचक सीटों पर दोनों ही प्रमुख दल किसे अपना प्रत्याशी बनाएंगे इस पर सभी की निगाहें लगी हुई हैं। हिन्दुस्थान समाचार/घनश्याम/मुकेश/आकाश
image