Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, नवम्बर 18, 2018 | समय 03:36 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

(चुनाव विशेष) मालवा-निमाड़ में पुराने चेहरों पर कांग्रेस ने जताया भरोसा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 4 2018 12:30PM
(चुनाव विशेष) मालवा-निमाड़ में पुराने चेहरों पर कांग्रेस ने जताया भरोसा
इंदौर, 01 नवम्बर (हि.स.)। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में इस बार कांग्रेस ने मालवा-निमाड़ क्षेत्र में अपने पुराने चेहरों पर ही भरोसा जताया। कांग्रेस ने 155 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की है जिसमें 46 विधायकों एवं 05 सांसदों को मौका दिया है। कांग्रेस ने वर्तमान एवं पूर्व विधायकों सहित कुछ सांसदों को भी इस क्षेत्र से विधानसभा के लिए खड़ा किया है जिसमें जीतू पटवारी, तुलसी सिलावट, अंतरसिंह दरबार, अश्विन जोशी को मौका दिया गया। वहीं पूर्व सांसदों में सज्जन सिंह वर्मा, विजयलक्ष्मी साधौ को टिकट दिया गया। कांग्रेस की इस पहली सूची में मालवा-निमाड़ क्षेत्र में सांवेर से तीन बार विधायक रहे तुलसी सिलावट को मौका दिया गया। तुलसी सिलावट सिधिंया खेमें के माने जाते हैं। वे माधवराव सिंधिया के समय से सिधिंया खेमे के नेता रहे हैं। उन्हें तीन बार मंत्री का दर्जा मिला पर सिलावट से वह पिछला चुनाव हार गए थे। वहीं इंदौर से सटी महू सीट पर दो बार के विधायक अंतरसिंह दरबार को टिकट दिया गया है। दरबार को अब तक चार बार मऊ से टिकट मिल चुका है, जिसमें से 1998, 2003 में वे जीते थे, वहीं 2008, 2013 में उन्हें बीजेपी के कैलाश विजयवर्गीय से हार का सामना करना पड़ा था। इसी तरह इंदौर से लगी राऊ विधानसभा सीट से प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष एवं कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के खास माने जाते जीतू पटवारी को टिकट मिला है। पटवारी ने 2013 में मोदी-शिवराज लहर में कैलाश विजयवर्गीय के खास, तत्कालीन विधायक जीतू जीराती को हराकर राऊ सीट जीती थी। इसी तरह इंदौर विधानसभा क्रमांक-03 से अश्विन जोशी को टिकट मिला है। जोशी तीन बार विधायक रह चुके है। वे भी पिछला चुनाव हारे थे। इसी तरह सोनकच्छ से पूर्व सांसद सज्जन सिंह वर्मा और महेश्वर से सांसद विजयलक्ष्मी साधौ को टिकट दिया है। दोनों ही कांग्रेस सरकार में मंत्री रहे हैं। कांग्रेस ने मध्यप्रदेश विधानसभा के लिए शनिवार को 155 उम्मीदवारों की सूची जारी की है। इसमें 63 नए चेहरों को मौका दिया है। कांग्रेस ने 46 विधायकों को मौका दिया। तीन विधायकों के टिकट काटे गए। 22 महिलाओं को भी इस सूची में स्थान दिया गया। वहीं 24 युवाओं को टिकट मिला है। मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए 28 नवम्बर को मतदान होना है, जिसके लिए सभी राजनैतिक दल मैदान में हैं। वैसे मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के बीच है। हिन्दुस्थान समाचार/निमिष
image