Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 20, 2018 | समय 03:44 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

गोविंदपुरा सीट को लेकर बवाल, पार्षदों ने दी सामूहिक इस्तीफे की धमकी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 3 2018 1:10PM
गोविंदपुरा सीट को लेकर बवाल, पार्षदों ने दी सामूहिक इस्तीफे की धमकी
भोपाल, 03 नवम्बर (हि.स.)। भाजपा में उम्मीदवारों की घोषणा के बाद जहां-तहां विरोध के स्वर फूटने लगे हैं। इसी सिलसिले में गोविंदपुरा सीट को लेकर बवाल मचा हुआ है। शनिवार सुबह वर्तमान विधायक बाबूलाल गौड़ के समर्थन में एकत्र सैकड़ों लोगों ने बाबूलाल या उनकी बहू कृष्णा गौड़ को टिकट दिए जाने की मांग को अपने पदों से सामूहिक इस्तीफे के धमकी दी। गोविंदपुरा सीट से भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल पिछले 40 सालों से विधायक हैं। फिलहाल गोविंदपुरा सीट से उम्मीदवार की घोषणा नहीं की गई है और सूत्रों के अनुसार भाजपा ने बाबूलाल को यह संकेत दे दिया है कि उन्हें टिकट नहीं दिया जा रहा है। वहीं, बुजुर्ग नेता बाबूलाल गौड़ का कहना है कि मेरी प्रधानमंत्री से बात हुई है और मैं चुनाव लड़ूंगा। हां, यदि पार्टी मेरी बहू को टिकट देती है, तो मैं अपनी उम्मीदवारी वापस ले सकता हूं। इधर, इस सीट से पार्टी के प्रदेश महामंत्री बीडी शर्मा और महापौर आलोक शर्मा भी टिकट चाहते हैं। ऐसी स्थिति में शनिवार को सैकड़ों लोगों ने गोविंदपुरा में एकत्र होकर बाबूलाल गौर के समर्थन में प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों में भाजपा कार्यकर्ता, पदाधिकारी और पार्षद भी शामिल थे। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि हम संगठन तक अपनी बात पहुंचाना चाहते हैं कि इस सीट से बाबूलाल गौर पिछले 40 सालों से विधायक हैं, ऐसी स्थिति में पार्टी अगर उन्हें टिकट नहीं देना चाहती, तो उनकी बहू कृष्णा गौड़ को टिकट देना चाहिए। इस विरोध प्रदर्शन में शामिल पार्षदों और अन्य पदाधिकारियों ने ऐसा न होने पर सामूहिक इस्तीफे की धमकी भी दी। वहीं, इस मामले में पार्टी के प्रवक्ता और सांसद आलोक संजर का कहना है कि फिलहाल इस सीट से किसी को टिकट नहीं दिया गया है, इसलिए प्रदर्शनकारियों को धैर्य रखकर प्रतीक्षा करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता यह अच्छे से जानते हैं कि पार्टी में कोई भी निर्णय व्यक्तिगत नहीं होता, सामूहिक रूप से होता है। ऐसे में पार्टी का जो भी निर्णय हो, सभी को स्वीकार होना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/केशव/शंकर
image