Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, नवम्बर 19, 2018 | समय 02:13 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

मिनिमम एश्योर्ड फैसिलिटी सभी मतदान केंद्रों में कराई जाएगी उपलब्ध

By HindusthanSamachar | Publish Date: Oct 15 2018 8:08PM
मिनिमम एश्योर्ड फैसिलिटी सभी मतदान केंद्रों में कराई जाएगी उपलब्ध

आगर-मालवा, 15 अक्‍टूबर (हि.स.) । कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अजय गुप्ता ने सोमवार को विधानसभा निर्वाचन से जुड़े सभी रिटर्निंग अधिकारी, जोनल अधिकारी एवं सेक्टर अधिकारियों को निर्देशित किया है कि निर्वाचन आयोग के द्वारा दिए गए निर्देशानुसार सभी मतदान केंद्रों पर मिनिमम एश्योर्ड फैसिलिटी जिसमें पानी, बिजली, शौचालय आदि शामिल है उपलब्ध कराई जाये। कलेक्टर ने कहा है कि सभी अधिकारी अपने-अपने प्रभार के मतदान केंद्रों का सतत् भ्रमण करें तथा यह सुनिश्चित करें कि सभी मतदान केंद्रो पर मोबाईल कनेक्टिविटी उपलब्ध हो। यदि किसी मतदान केंद्र पर किसी भी टेलीकॉम ऑपरेटर के सिग्नल नहीं मिल रहे हो तो वहां वैकल्पिक व्यवस्था की जाये। 

बैठक में कलेक्टर ने निर्देशित किया है कि ऐसे मतदान केंद्र जो विभिन्न छात्रावासों में स्थापित किए गए हैं वहां पर निर्वाचन के 2 दिन पूर्व छात्रावास खाली करवाए जाने की कार्रवाई की जाये। बैठक में जानकारी दी गई कि बड़ौद, सुसनेर, आगर, नलखेड़ा नगरीय क्षेत्रों में स्थापित किए गए मतदान केंद्रों में सभी सुविधाएं उपलब्ध करा दी गई है एवं पुताई का कार्य चल रहा है। कलेक्टर ने यह भी स्पष्ट किया है कि जो मतदान केंद्र निजी स्कूल भवनो में स्थापित किए गए हैं उन स्थानों पर भी मतदाताओं के लिये अनिवार्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाये। 

कलेक्टर ने कुंडालिया डैम की डूब में आए कोटडी ग्राम पंचायत के दो मतदान केंद्रों को अन्यत्र शिफ्ट करने की जानकारी का व्यापक प्रचार-प्रसार मतदाताओं के बीच करने के निर्देश दिए है। उन्होंने इन स्थानों पर स्वीप की गतिविधियां संचालित करने को कहा है। कलेक्टर ने सुसनेर विधानसभा में लगने वाले 44 मतदान केंद्र जो कि शाजापुर जिले में आते हैं पर फ्लाइंग स्क्वाड आदि की व्‍यवसथा के लिए सुसनेर विधानसभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारी को निर्देशित किया है।

कलेक्टर ने सी-विजील एप पर आने वाली शिकायतें रिटर्निंग अधिकारी को ट्रांसफर करने के निर्देश देते हुए कहा है कि निर्वाचन के दौरान कंट्रोल रूम में आने वाली सभी शिकायतों को संबंधित रिटर्निंग अधिकारी को तुरंत संज्ञान में लाया जाये। उन्होंने कहा है कि समाधान पोर्टल, दूरभाष पर आने वाली शिकायतें तथा सी-विजील पर की जाने वाली शिकायतों को फ्लाइंग स्क्वाड टीम को ट्रांसफर करने के साथ-साथ संबंधित रिटर्निग अधिकारी के संज्ञान में अनिवार्य रूप से लाया जाये। बैठक में बताया गया कि अब तक समाधान पोर्टल पर प्राप्त विभिन्न 43 शिकायतों का निराकरण कर दिया गया है। इनमें से अधिकांश शिकायतें वोटर आई डी से जुड़ी हुई थी।

कलेक्टर ने बैठक में सभी जोनल अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में ध्यान रखें कि कहीं किसी मतदान केंद्र पर मतदान को लेकर कोई विरोध तो नहीं है। यदि ऐसी स्थिति है तो वे वहां पर मतदाता जागरूकता गतिविधियां चला कर एवं ग्रामीणों से बात करके समस्या का समाधान निकालें एवं शत प्रतिशत मतदान करवायें।

चुनाव ड्यूटी से कोई बच नहीं सकेगा

कलेक्टर ने बैठक में स्पष्ट रूप से निर्देशित किया है कि जिन लोगों की ड्यूटी मतदान दल में लगाई जा रही है उनकी ड्यूटी किसी भी स्थिति में निरस्त नहीं की जाएगी। उन्होंने स्वास्थ्य संबंधी कारणों से ड्यूटी से बचने वाले अधिकारी-कर्मचारियों का मेडिकल बोर्ड से परीक्षण कराने के लिए मेडिकल बोर्ड का गठन करते हुए 23 अक्टूबर के पूर्व ऐसे सभी मामलों का परीक्षण करने को कहा। कलेक्टर ने इसी के साथ मतदान दलों के लिए लगाए जाने वाले लगभग 3000 कर्मचारियों की सेंसटाइजेशन ट्रेनिंग आयोजित करने के निर्देश दिए हैं।

बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती अंजली जोसेफ, अपर कलेक्टर एनएस राजावत राजावत, एसडीएम महेन्द्र सिंह कवचे, मनीष कुमार जैन, संयुक्त कलेक्टर अवधेष शर्मा, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती कल्याणी पांडेय सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे। 

हिन्‍दुस्‍थान समाचार / उमेद 

image