Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, नवम्बर 13, 2018 | समय 04:22 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

होशंगाबाद से पूर्व मंत्री सरताज हो सकते है कांग्रेस प्रत्‍याशी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Nov 7 2018 12:26PM
होशंगाबाद से पूर्व मंत्री सरताज हो सकते है कांग्रेस प्रत्‍याशी
आत्‍माराम
होशंगाबाद| राजनीति किस करवट बैठेगा, कहा नहींं जा सकता है | अपने लिये टिकट मॉग रहे भाजपा से पूर्व मंत्री सरताज सिंह टिकट न देने से पार्टी से नाराज है। उन्‍हें सिवनीमालवा से टिकट न मिलने की सूचना उन्‍हें मिल चुकी है। राजनैतिक कयास लगाये जा रहे है कि होशंगाबाद से कांग्रेस ने सीट होल्‍ड रखी है अगर सरताज सिंह को सिवनीमालवा से टिकट नहीं मिलता है तो कमलनाथ और सिधिंयाग्रुप उन्‍हें कांग्रेस से विधानसभा अध्‍यक्ष डाक्‍टर सीताशरण शर्मा के खिलाफ उतारे जाने की पुरजोर तैयारी में हैं । सुबह उनकी बात शिवराज सिंह से हुई वहीं शाम कमलनाथ से होने की चर्चा है और माना जा रहा है कि राहुल गांधी से उनकी बात होने के बाद वे होशंगाबाद से कांग्रेस की ओर से चुनाव लडने की हामी भर सकते हैं | परन्‍तु सरताज को करीब से जानने वाले लोग ऐसेे कयासों को मुंगेरीलाल का ख्‍याब बता रहे हैं । अब देखना है कि अगले कुछ घन्‍टों में क्‍या देखने को मिलता है। कांग्रेस के कुछ लोग सरताज के स्‍वागत की बात करते हैं वहीं कुछ लोग मानक अग्रवाल को डाक्‍टर शर्मा का प्रतिद्वंदी मानकर यह सीट निकालने की बात करते हैं ।
 
दिनभर के घटनाक्रम में सुबह से अब जो तथ्‍य आये उन्‍हें देखने से पता चलता है कि सिवनीमालवा सीट पर दो बार लगातार विजयी हुए और अब तक चुनावों में अपराजेय रहे सरताज सिंह का टिकट होल्ड रखने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने नर्मदा अपना अस्पताल के संचालक डॉ राजेश शर्मा का नाम इस क्षेत्र से आगे करते हुए उन्हें टिकट देने पर उनकी राय ली हैं | वही उनके नाम पर असहमति पर उनकी पसंद का नाम भी जानना चाहा है। इससे इस सीट पर यह तय हो गया है अब सरताज सिंह को टिकट नहीं मिल रहा है ओर पार्टी ने उनका नाम इस दावेदारी से काट दिया है। मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा प्रत्याशियों की दो सूची में पूर्व मंत्री सरताज सिंह का नाम नहीं आने से उनकी संगठन के प्रति नाराजगी चरम पर पहुँच गई है ।
पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की गोविंदपुरा सीट और पूर्व मंत्री सरताज सिंह की सिवनी मालवा सीट पर कश्मकश की स्थिति होने से पार्टी की किरकिरी हो रही थी। पार्टी ने दोनों नेताओं को मनाने के प्रयास किये हैं, इसके बावजूद दोनों ही नेता बगावती तेवर दिखा रहे हैं| इस बीच खबर है कि सरताज सिंह का टिकट कटना तय है, उन्हीं से इस सीट पर किसी अन्य दावेदार का नाम पूछा गया है, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उनसे फ़ोन पर बातचीत कर चुके हैं| पार्टी के सामने सरताज ने स्पष्ट कर दिया है कि सिवनी मालवा से टिकट कटने की स्थिति में कार्यकर्ताओं और जनता से राय-मशविरा कर निर्णय करूंगा। तोमर ने सरताज से पूछा कि टिकट किसे दें, नया नाम बताएं। इस पर सरताज ने अपनी ओर से एक नाम बता दिया लेंकिन उस नाम का खुलासा नहीं किया है। इससे सरताज को संकेत मिल चुके हैं कि उनका टिकट कट गया है| इस बीच खबर है कि सिवनी मालवा से सरताज की जगह डॉक्टर राजेश शर्मा को सिवनी मालवा से टिकट मिलेगा। डॉक्टर राजेश, नर्मदा हॉस्पिटल के संचालक हैं । वे सरताज के घर आशीर्वाद लेने पहुंचे हैं लेकिन सरताज सिंह ने उन्हें आशीर्वाद नहीं दिया।
मुख्यमंत्री ने भी सरताज से फ़ोन पर बात की है और डॉ राजेश शर्मा की दावेदारी पर राय भी ली गई है| वहीं सरताज ने नए प्रत्याशी को लेकर जानकारी देने से इंकार किया है | उन्होंने कहा है इस संबंध में मेरी पहले बातचीत हो चुकी है|अब पार्टी के सामने संकट आ गया है कि अगर मुख्यमंत्री की पसंद से राजेश शर्मा को टिकट दे ओर उन्हें पराजय का मुंह देखना पड़े तो उसका ठीकरा मुख्यमंत्री पर फूटेगा |
 
image