Hindusthan Samachar
Banner 2 शनिवार, अगस्त 18, 2018 | समय 20:29 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

जानलेवा हमले के आरोपी को 7 साल का कारावास

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 11 2018 10:03PM
जानलेवा हमले के आरोपी को 7 साल का कारावास
बोकारो, 11 अप्रैल (हि.स.)। बोकारो के जिला जज- द्वितीय (फास्ट ट्रैक कोर्ट) रंजीत कुमार की अदालत ने जानलेवा हमले के आरोपी चंदनकियारी निवासी अनूप गोस्वामी उर्फ संतोष कुमार गोस्वामी को सात साल के सश्रम कारावास की सजा सुनायी है। अन्य धाराओं में भी उसे सजायें मिलीं, जो सब साथ-साथ ही चलेंगी। आरोपी अभियुक्त ने अपनी पत्नी, तीन साल के मासूम बेटे और ससुर को चाकू के हमले से घायल कर जिन्दा जलाने की कोशिश की थी। मामला चंदनकियारी के अमलाबाद ओपी क्षेत्र स्थित दुबेकांटा मोड़ का था और घटना बीते 12 अक्तूबर, 2016 की है। अदालत में बहस कर दोषी को सजा दिलाने वाले विशेष लोक अभियोजक आरके राय ने बताया कि उक्त आरोप में अदालत ने अभियुक्त को दोषी पाते हुए भादवि की धारा 307 के तहत सात वर्ष के कारावास और 10 हजार रुपये का जुर्माना, 435 के तहत तीन वर्ष की जेल व पांच हजार जुर्माना तथा 324 के तहत तीन वर्ष के कारावास और पांच हजार रुपये के अर्थदंड की सजा सुनायी। इसके अलावा अन्य अलग-अलग धाराओं में भी उसे सजा मिली। सभी सजायें साथ-साथ चलेंगी। विशेष लोक अभियोजक के अनुसार अभियुक्त अनूप गोस्वामी का शादी के बाद से ही अपनी पत्नी के साथ विवाद चल रहा था। वह एक मोटरसाइकिल को लेकर अक्सर अपनी पत्नी पुष्पा देवी को प्रताड़ित किया करता था। बाद में अदालत से मामला सुलह होने पर वह घर जमाई के रूप में अपने ससुराल में ही पत्नी, बच्चे व ससुर के साथ रहता था। मोटरसाइकिल को लेकर ही विवाद में अनूप ने अपनी पत्नी पुष्पा और तीन साल के पुत्र गणेश को चाकू के प्रहार से बुरी तरह जख्मी कर दिया। बचाने की कोशिश में आये ससुर को भी चाकू मारकर घायल कर दिया। उसके बाद कमरे का दरवाजा बाहर से बंद कर उसने उसमें आग लगाकर सभी को जिन्दा जलाने का प्रयास किया। घटना के बाद बाद वह फरार हो गया, लेकिन आस-पास के लोगों के सहयोग से आग बुझायी गयी तथा तीनों की जान बचायी जा सकी थी। हिन्दुस्थान समाचार/दीपक/वंदना/दधिबल
image