Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 03:55 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर काजल हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने का दावा, पति सहित चार अभी भी फरार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 12 2019 5:55PM
तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर काजल हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने का दावा, पति सहित चार अभी भी फरार
मेदिनीनगर, 12 अप्रैल (हि.स.)। बिहार के डेहरी ऑन-सोन से तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर पुलिस ने काजल हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने का दावा किया है। तीनों आरोपितों ने पुलिस की पूछताछ में काजल की हत्या में शामिल होने की बात स्वीकारी है। इस मामले में मृतका के पति व ससुर सहित दो अन्य अभी भी फरार बताए गए हैं। 24 फरवरी को हुसैनाबाद थाना के कचरा गांव स्थित कुएं से बोरे में बंद शव बरामद हुआ था। हुसैनाबाद पुलिस इस घटना की जांच में जुटी थी। हुसैनाबाद के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विजय कुमार के निर्देश पर गठित पुलिस टीम ने बिहार के डेहरी ऑन-सोन के सुभाषनगर से इस मामले के तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार अशोक कुमार, शम्भू प्रसाद और विनय प्रसाद को पुलिस ने जेल भेज दिया है। मृतका के पति भरत प्रसाद, ससुर मदन गुप्ता सहित दो अन्य आरोपित फरार बताए गए हैं। सभी सात आरोपितों के ख़िलाफ़ हुसैनाबाद थाना में मृतका की मां रेखा देवी के आवेदन पर मामला दर्ज किया गया है। सभी आरोपित गया जिले के डुमरिया थाना अंतर्गत देवरी गांव के निवासी बताये गये हैं। इस संबंध में हुसैनाबाद के एसडीपीओ विजय कुमार व पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी रास बिहारी लाल ने संयुक्त रूप से बताया कि सभी आरोपितों ने मिलकर एक साजिश के तहत काजल की हत्या की। उन्होंने कहा कि भरत प्रसाद एक कोचिंग में पढ़ाता था, जहां उसे काजल कुमारी से प्यार हो गया। जब शादी की बात आई तो भरत इनकार करने लगा। इस पर काजल के परिजनों ने जिला रोहतास के एसपी से मिलकर न्याय की गुहार लगाई। तब पुलिस प्रशासन की उपस्थिति में एसपी ऑफिस में 22 फरवरी 2018 को काजल व भरत की शादी कर दी गई। शादी के बाद दोनों जपला स्टेशन रोड में एक किराये के मकान पर रहने लगे। जहां वह ठेला चलाकर अपना भरन-पोषण कर रहा था। पुलिस ने बताया कि भरत प्रसाद और काजल कुमारी की जाति अलग-अलग होने की वजह से भरत के घरवाले काजल को स्वीकार नहीं कर रहे थे। इसी दौरान काजल मां बनने वाली थी। काजल को अपने घरवालों के सामने नहीं ले जाना पड़े इसलिए भरत ने उसकी हत्या कर दी। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/वंदना/ संजीव
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image