Hindusthan Samachar
Banner 2 मंगलवार, अप्रैल 23, 2019 | समय 10:02 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

हिंडाल्को हादसे में एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि, बचाव कार्य जारी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 10 2019 7:47PM
हिंडाल्को हादसे में एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि, बचाव कार्य जारी
रांची, 10 अप्रैल (हि.स.)। रांची के मुरी स्थित हिंडाल्को के कास्टिक तालाब में हुए हादसे में अबतक एक व्यक्ति की मौत की पुष्टि हुई है। रांची के डीसी राय महिमापत रे ने बुधवार को बताया कि कास्टिक तालाब धंसने के मामले में 48 घंटे के अंदर हिंडाल्कों कंपनी से जवाब मांगा गया है। उन्होंने बताया कि घटना में अमरेन्द्र नाम के एक व्यक्ति की मौत हुई है। वह जहानाबाद का रहने वाला था। हालांकि उसका शव अबतक नहीं मिला है। उन्होंने बताया कि उस क्षं जितने भी सेल फोन थे। उसका डंप निकाला जा रहा है। मौके पर एनडीआरएफ टीम राहत और बचाव कार्य चला रही है। एसडीओ गरिमा सिंह और ग्रामीण एसपी आशुतोष शेखर मौके पर कैंप किये हुए है। डीसी ने बताया कि पीएचइडी के इंजीनियर और पर्यावरण विभाग से आग्रह किया गया है कि प्रभावित क्षेत्र के पानी का सैंपल लेकर जांच करे ताकि यह पता चले कि उसमें किसी भी तरह की जहरीला पदार्थ है या नहीं। जानकार सूत्रों के अनुसार 1948 में इंडाल ने मुरी संयंत्र को बनाया था। हिंडाल्को ने 2005 में उसे अधिग्रहित किया। इस प्लांट में लोहरदगा से आये बाक्साइट अयस्क का शुद्धिकरण कर उच्च ग्रेड का अल्मुनियम प्राप्त किया जाता है। इसे हिंडाल्कों के रेणुकूट संयंत्र में भेजकर अल्मुनियम मेटल का निर्माण होता है। शुद्धिकरण के क्रम में सोडियम हाइड्रोक्साइड एक बेकार वस्तु के रुप में पानी के साथ प्राप्त होता है, जिसे संयंत्र के बाहर बने रेडमंड तालाब में रखा जाता है। जलाशय की एक निर्धारण क्षमता होती है। इस हादसे से यह प्रतीत होता है कि क्षमता से ज्यादा रेड मड जलाशय में रखा गया। जिससे इस तालाब की दीवार टूट गयी। विशेषज्ञों की माने तो इस तरह की एक घटना हंगरी के अजंका प्लांट में हो चुकी है। इस घटना के कारण आस-पास के खेतो की उर्वरता पर सीधा असर पड़ेगा। क्षेत्र के पानी के जलाशयों में भी दुष्प्रभाव पड़ना स्वाभाविक है। क्योकिं रेडमड तालाब के पानी का पीएच 12 से उपर होता है और ऐसा पानी ना मनुष्य के पीने में काम आ सकता है, ना ही इससे खेती की जा सकती है। खेतों को फिर से काम योग्य बनाने के लिए विशेषज्ञों की राय से उपचार करना जरुरी है। हिन्दुस्थान समाचार/विकास/महेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image