Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 26, 2019 | समय 09:39 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

रामगढ़ जिले में 5000 से अधिक नए मतदाता पहली बार करेंगे वोट

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 10 2019 7:41PM
रामगढ़ जिले में 5000 से अधिक नए मतदाता पहली बार करेंगे वोट
रामगढ़ 10 अप्रैल (हि. स.) : रामगढ़ जिले में लोकसभा चुनाव को लेकर नए वोटर को जोड़ने का प्रयास लगातार जारी है। पिछले 3 महीनों में रामगढ़ जिले के वोटर लिस्ट में 5000 से अधिक नए मतदाता का नाम शामिल किया गया है। यह जानकारी बुधवार को डीसी राजेश्वरी बी ने संवाददाताओं को दी। उन्होंने कहा कि फर्स्ट वॉटर को लेकर चुनाव आयोग चुनाव आयोग ने भी स्पष्ट निर्देश दिया था। उन्हें निर्देशों के आधार पर 8 अप्रैल तक जिन लोगों ने फॉर्म 6 भरकर जमा किया उनका नाम वोटर लिस्ट में शामिल कर लिया गया है। स्वीप के द्वारा भी लो पोलिंग बूथों और दिव्यांग वोटरों के बीच व्यापक स्तर पर जन-जागरूकता कार्यक्रम चलाए जा रहे है, जिले में करीब 5 हजार दिव्यांग वोटर है। इनमें 1200 ब्लाइंड वोटर हैं। हमारा लक्ष्य वृद्ध और दिव्यांग वोटरों को मतदान केन्द्रों तक पहुँचाना है। उनके लिए व्हील चेयर की भी व्यवस्था की गई है और आवश्यकता पड़ने पर उनके आवागमन की भी सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिले में 6 मई को होनेवाले मतदान को लेकर 10 अप्रैल को अधिसूचना जारी हो गई है। 18 अप्रैल नामांकन की अंतिम तिथि है, 20 अप्रैल को स्क्रूटनी और 22 अप्रैल नाम वापसी की अंतिम तिथि निर्धारित है। चुनाव को लेकर हमारी तैयारियां अच्छी है, लोगों में भी मतदान को लेकर काफी उत्साह और आत्मविश्वास है। हजारीबाग संसदीय क्षेत्र के लिए रामगढ़ जिले के 6 लाख से अधिक वोटर 6 मई को प्रातः 7 बजे से अपराह्न 4 बजे तक वोट डालेंगे। उपायुक्त ने बताया कि, जिले के सभी बूथों व क्लस्टरों में आवश्यक बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। लगभग 80 प्रतिशत क्लस्टरों का निरीक्षण किया जा चुका है और संबंधित पदाधिकारी बूथों का लगातार दौरा कर रहे है। स्वच्छता, पेयजल और शौचालय पर विशेष जोर है। गर्मी को देखते हुए बूथों में छाया की व्यवस्था करने का भी निर्देश दिया गया है। पर्याप्त संख्या में टैंकरों के माध्यम से पानी की समुचित व्यवस्था होगी। उन्होंने बताया कि जिले में करीब 5 हजार मतदान कर्मी चुनाव कार्य में रहेंगे, ड्यूटी के दौरान कर्मियों को किसी प्रकार की चिकित्सा सहायता की जरूरत पड़ी तो उनका चिन्हित अस्पतालों में कैशलेस इलाज की व्यवस्था होगी। क्लस्टरों में मेडिकल किट व एम्बुलेंस की व्यवस्था भी रहेगी। हिन्दुस्थान समाचार /अमितेश/विनय
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image