Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, अप्रैल 25, 2019 | समय 07:35 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

प्रकृति संरक्षण की ओर ध्यान देना होगा: कुलपति

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 8 2019 6:04PM
प्रकृति संरक्षण की ओर ध्यान देना होगा: कुलपति
मेदिनीनगर, 08 अप्रैल (हि.स.)। जीएलए कॉलेज कैंपस में सरहुल पूजा महोत्सव का आयोजन कर प्रकृति के पर्व पर सरई फूल के साथ पूजा-अर्चना की गई। पुजारी ने फसल की अच्छी उपज के लिए प्रकृति से प्रार्थना की। सोमवार को समारोह में मुख्य अतिथि नीलाम्बर पीताम्बर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ. एसएन सिंह के कहा कि प्रकृति के इस पर्व पर सभी प्रकृति को बचाने का और सामंजस्य स्थापित करने का संकल्प लें। कुलपति ने कहा कि आज असंतुलन की स्थिति को कम करना जरूरी है और पूर्व में की गई गलतियों में सुधार करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि हम सब प्रकृति का दोहन कम से कम करें। उन्होंने चिंता जताते हुए कहा कि पृथ्वी पर मानव जीवन को यदि बचाए रखना है तो प्रकृति संरक्षण की ओर ध्यान ही देना होगा। यदि इसमें कोताही बरती गयी तो आने वाले दिनों में जीवन कठिन होगा। इसलिए असंतुलन की स्थिति में सभी को मिलकर सुधार लाना चाहिए। समारोह में विशिष्ट अतिथि 134 सीआरपीएफ बटालियन के कमांडेंट एडी शर्मा ने कहा कि प्रकृति को संरक्षण देने के लिए हरसंभव प्रयास करें। सरहुल पर्व हमें प्रकृति को संतुलन रखने की प्रेरणा देता है। पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के प्रभारी डॉ. एनके सिंह ने कहा कि सरहुल प्रकृति के प्रति आस्था और कृतज्ञता का उल्लास है। आज हम अपनी जीविका के लिए बहुत सारी चीजों पर आश्रित हैं, नौकरी, व्यवसाय, राजनीति, व्यवसायिक खेती, कला व नृत्य आदि न जाने कितने तरह की चीजों का सहारा ले रहे हैं लेकिन कल्पना कीजिए, जब इस धरती पर जंगल, पहाड़, नदी, नाले, खेत थे और सिर्फ इन्हीं के सहारे हमारे पूर्वज जीवनयापन करते थे। इससे पूर्व कार्यक्रम में अतिथियों का पगड़ी पहनाकर स्वागत किया गया। हिन्दुस्थान समाचार/संजय/वंदना/सुनील/दधिबल
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image