Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 03:46 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष गिलुवा पर माओवादियों से संबंध का आरोप, एनआईए से जांच के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 6 2019 12:40AM
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष गिलुवा पर माओवादियों से संबंध का आरोप, एनआईए से जांच के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर
रांची, 5 अप्रैल ( भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा का संबंध माअाेवादियाें के साथ हाेने का अाराेप लगा है। शुक्रवार काे झारखंड हाईकोर्ट में प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा के खिलाफ याचिका दायर कर की गर्इ है। इसमें नेशनल इंवेस्टिेगेशन एजेंसी (एनआईए) से जांच कराने की मांग की गयी है। यह याचिका जमशेदपुर के दानियल दानिश ने दायर की है। दानियल ने याचिका के माध्यम से काेर्ट काे बताया है कि लक्ष्मण गिलुवा का संबंध सीपीआई के माओवादी रामाकांत पांडेय से है। प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा की रामाकांत पांडेय के साथ दाे तस्वीर भी हाईकाेर्ट काे उपलब्ध करायी गयी है। याचिकाकर्ता के अधिवक्ता राजीव कुमार ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी के झारखंड प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुवा का लिंक माओवादी से है। रामाकांत पांडेय अभी जेल में बंद है। उस पर अग्रतर कार्रवाई के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर की गर्इ है। उन्होंने कहा कि याचिकाकर्ता दानियल दानिश भारतीय जनता पार्टी माइनॉरिटी सेल से भी जुड़े हुए हैं। उन्होंने बताया कि याचिकाकर्ता ने कोर्ट के माध्यम से एनआईए से मांग की है कि सीपीअार्इ के माओवादी रामाकांत पांडेय, हबली हाेडाे, राजू सांडयाल्य, लुगरा देवगम, बमियान मांझी, काशीनाथ दिगगी, संदीप, माेतीलाल साेर और संजय का लक्ष्मण गुलवा संबंध की जांच की जाए। साथ ही एनआईए लक्ष्मण गिलुवा के मोबाइल फोन की भी जांच करें कि उनकी किन-किन से बात हाेती है। याचिका में अाराेप लगाया गया है कि चाईबासा इंडस्ट्रियल एरिया के माइंस ऑनर से माओवादी लेवी भी वसूली करते है। इसकी जांच के लिए हाईकोर्ट आदेश दे। याचिकाकर्ता ने अपनी याचिका में इस बात का जिक्र किया है कि अल्पसंखयक सेल के महामंत्री समीर शेख ने चीफ मिनिस्टर काे बताया है कि रामा पांडेय, दीपक तिवारी, सूरज लाेहार, सुशील टांटी व अन्य की जांच इसलिए नहीं हुर्इ है कि इनलाेगाें का संपर्क लक्ष्मण गिलुवा से है। वही यह भी कहा गया है कि एनआईए माअाेवादियाें काे फंड उपलब्ध कराने के मामले की जांच कर रही है, लेकिन पॉलिटिशियन लक्ष्मण गिलुवा की वजह से ये लाेग बच रहे है। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव/विनय
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image