Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, मार्च 21, 2019 | समय 21:33 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

शाॅर्टकट में पैसे कमाने के लालच से बढ़ रही अफीम की खेती

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jan 20 2019 8:28PM
शाॅर्टकट में पैसे कमाने के लालच से बढ़ रही अफीम की खेती
खूंटी , 20 जनवरी (हि .स.)। शाॅर्टकट में बिना मेहनत के पैसे कमाने के लालच में आज की युवा पीढ़ी अफीम रूपी जहर की खेती को बढ़ावा दे रही है। सूत्रों की मानें, तो कुछ नक्सलियों का भी पोस्ते की खेती को वरदहस्त प्राप्त है। यही कारण है कि गांव वाले यहां तक कि जन प्रतिनिधि भी पोस्ते की अवैध खेती की सूचना पुलिस को देने से हिचकते हैं। परिणाम स्वरूप अफीम की खेती को पूर्ण रूप से खत्म की पुलिस की योजना सफल नहीं हो पा रही है। यह सच है कि जहर की इस खेती के खिलाफ पुलिस का अभियान लगातार जारी है। पुलिस ने अफीम की खेती के खिलाफ 27 नवंबर 2018 से अभियाने शुरू किया है। अब तक पुलिस लगभग 185 एकड़ क्षेत्रफल में लगी फसल को पुलिस नष्ट कर चुकी है। पिछले वर्ष भी लाखों रुपये की तैयार अफीम, डोडा आदि बरामद किये गये थे। कई तस्करों की गिरफ्तारी भी हुई थी। बता दें कि खूंटी में अफीम की खेती का जाल पंजाब, राजस्थान सहित कई जिलों तक फैला है। दूसरे राज्यों के कई तस्कर पुलिस की पकड़ में आ चुके हैं। पुलिस और जिला प्रशासन के अधिकारी जागरूकता अभियान के तहत गांव के लोगों से अफीम की खेती न करने की अपील करते हुए इससे आने वाली पीढ़ी के साथ ही मवेशियों और खेत को होने वाली क्षति के बारे में हमेशा बताते आये हैं। इसके बावजूद जहर की खेती का दायरा घटने के बदले हर साल बढ़ता जा रहा है। यह न सिर्फ प्रशासन के लिए, बल्कि समाज के हर वर्ग के लोगों के लिए चिंता का विषय है। हिन्दुस्थान समाचार/अनिल /वंदना
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image