Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, अप्रैल 25, 2019 | समय 17:18 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

एतिहाद ने जेट एयरवेज के एजीएम में मत देने से किया परहेज

By HindusthanSamachar | Publish Date: Feb 25 2019 8:17PM
एतिहाद ने जेट एयरवेज के एजीएम में मत देने से किया परहेज

प्रमोद

नई दिल्ली, 25 फरवरी (हि.स.)। जेट एयरवेज की साझेदार कंपनी एतिहाद एयरवेज ने एयरवेज के कर्ज को शेयर में बदलने के प्रस्ताव के समर्थन में मत देने से परहेज कर लिया है। पिछले गुरुवार को इस प्रस्ताव को लेकर कंपनी ईजीएम की बैठक हुई थी। जानकारी के मुताबिक एतिहाद ने इस प्रस्ताव के समर्थन के लिए सख्त शर्त लगा दी है। इसके कारण जेट एयरवेज की परेशानी में तत्काल कमी नहीं आने वाली है।

उल्लेखनीय है कि एतिहाद के इस कदम से जेट एयरवेज की हालत और खराब हो सकती है। उधर, कंपनी के पायलट ने वेतन भुगतान में हो रही देरी के कारण काम रोकने की धमकी भी दे दी है। इस बीच कंपनी के कर्जदाता बैंक के कंसोर्टियम ने 500 करोड़ रुपये के कर्ज पर विचार किया है। हालांकि इस मामले में अंतिम फैसला लिया जाना अभी बाकी है। यह जानकारी पंजाब नेेशनल बैंक के प्रबंध निदेशक सुनील मेहता ने दी थी। उन्होंने यह भी कहा कि बैंक इस कर्ज को स्वीकृति देने से पहले कंपनी के प्रमोटर से इसके लिए गारंटी भी लेगा । साथ ही बैंक कंपनी के खिलाफ एनसीएलटी में नहीं जा रहा है।

हालांकि कंसोर्टियम के लीड बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की ओर से कहा गया था कि वह कंपनी के खिलाफ एनसीएलटी में जाने का सोच रहा है। उल्लेखनीय है कि उक्त प्रस्ताव को अधिकांश शेयरहोल्डरों ने स्वीकृति दे दी है। हालांकि एतिहाद ने बैठक से ही परहेज कर लिया है। जेट एयरवेज में एतिहाद की 24 फीसदी की हिस्सेदारी है। एतिहाद स्टेट बैंक व नेशनल इंवेस्टमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर फंड (एनआईआईएफ) की ओर से दिए जाने वाले कर्ज की प्रतीक्षा कर रही है। सूत्रों के मुताबिक एतिहाद स्टेट बैंक व एनआईआईएफ से 2,200 करोड़ का कर्ज चाह रही है। हालांकि जेट एयरवेज के प्रवक्ता ने इस मामले में किसी भी टिप्पणी से इनकार किया है।

हिन्दुस्थान समाचार

लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image