Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 26, 2019 | समय 09:12 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

एनसीएलएटी की ओर से एस्सार स्टील को राहत, ऋणदाता की वसूली याचिका खारिज

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jan 30 2019 6:58PM
एनसीएलएटी की ओर से एस्सार स्टील को राहत, ऋणदाता की वसूली याचिका खारिज

प्रमोद

नई दिल्ली, 30 जनवरी (हि.स.)। कर्ज के बोझ से दबी एस्सार स्टील कंपनी के ऋणदाता को बड़ा झटका देते हुए राष्ट्रीय कंपनी विधि अपीलीय अधिकरण (एनसीएलएटी) ने उसकी 800 करोड़ रुपये बकाया वसूली की अपील खारिज कर दी है।

उल्लेखनीय है कि न्यायमूर्ति एस. जे. मुखोपाध्याय की अध्यक्षता वाली एनसीएलएटी की दो सदस्यीय खंड पीठ ने कंपनी के व्यावसायिक ऋणदाता कमलजीत सिंह की याचिका को सुनने से साफ मना कर दिया। सिंह ने एनसीएलएटी से राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) की अहमदाबाद शाखा के आर्सेलर मित्तल की समाधान योजना पर अंतिम फैसला लेने से पहले उनकी याचिका सुने जाने का निर्देश देने की अपील की थी।

व्यावसायिक ऋणदाता, ऐसा ऋणदाता होता है जो कंपनी को उसके रोजमर्रा के परिचालन के लिए कर्ज उपलब्ध कराता है। सिंह का दावा है कि कंपनी (एस्सार स्टील) पर उनके 800 करोड़ रुपये बकाया हैं, जिसकी वह वापसी चाहते हैं। एनसीएलटी ने एस्सार स्टील के शेयरधारकों द्वारा रखे गए ऋण भुगतान प्रस्ताव को भी खारिज कर दिया। एनसीएलटी ने कहा कि यह दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता की धारा 12-ए का उल्लंघन करता है। एनसीएलटी ने कहा कि एस्सार स्टील एशिया होल्डिंग द्वारा लगाई गई 54,389 करोड़ रुपये की बोली, आर्सेलर मित्तल की 42,000 करोड़ रुपये की बोली से बहुत ज्यादा है लेकिन इस पर विचार नहीं किया जा सकता, क्योंकि इस तरह का कोई भी प्रस्ताव धारा 12-ए के तहत किया जाना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार

लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image