Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 26, 2019 | समय 09:20 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बैंक ऑफ इंडिया का मुनाफा घटा, ग्रॉस एनपीए में कमी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Jan 28 2019 6:22PM
बैंक ऑफ इंडिया का मुनाफा घटा, ग्रॉस एनपीए में कमी

राधेश्याम

मुंबई, 28 जनवरी (हि.स.)। जनवरी महीने में विभिन्न बैंकों और कंपनियों की ओऱ से नतीजे घोषित किए गए हैं। अधिकांश कंपनियों और कंपनियों के वित्तीय नतीजे बेहतर नहीं रहे हैं, जिसका असर शेयर मार्केट पर भी दिखाई दे रहा है।

बैंक ऑफ इंडिया की ओऱ से भी तिमाही नतीजों की जानकारी दी गई है। बीओबी को इस तिमाही में 4,737.56 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ है। बैंक के लिए राहत की खबर यह रही है कि पिछले साल की तुलना में इस तिमाही में एनपीए में कमी आई है। बैंक ऑफ इंडिया ने 31 दिसंबर 2018 को समाप्त तिमाही का वित्तीय परिणाम घोषित कर दिया है।

बाजार नियामक को सूचित करते हुए बीओबी ने बताया कि इस तिमाही में बैंक का शुद्ध घाटा 4,737.56 करोड़ रुपये रहा है, जबकि पिछले साल की समान तिमाही में बैंक को 2,341.20 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ था। इस तिमाही में बैंक की बिक्री तथा परिचालन से प्राप्त कुल आय 11,839.53 करोड़ रुपये रही है, जबकि पिछले साल की समान तिमाही में यह आंकड़ा 10,376.03 करोड़ रुपये रहा था। बाजार नियामक को सूचित करते हुए बीओबी ने बताया कि वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया की ब्याज आय हालांकि 33.2 फीसदी बढ़ी है और यह 3332 करोड़ रुपये हो गई है। पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की तीसरी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया की ब्याज आय 2501 करोड़ रुपये रही थी।

तिमाही आधार पर चालू वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया का ग्रॉस एनपीए 16.31 फीसदी हो गया है। पिछले साल बैंक का ग्रॉस एनपीए 16.93 फीसदी रही थी। तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में बैंक ऑफ इंडिया का नेट एनपीए घटकर 5.87 फीसदी रही है, जबकि पिछले साल की समान तिमाही में नेट एनपीए 10.29 फीसदी रही थी। रुपये में बैंक का ग्रॉस एनपीए इस तिमाही में 6,079,755 लाख रुपये रही है, जबकि चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही (30 सितंबर 2018) के दौरान यह 6,156,065 लाख रुपए और पिछले साल 31 दिसंबर 2017 को यह 6,424,858 लाख रुपये रहा था।

हिन्दुस्थान समाचार

लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image