Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, दिसम्बर 17, 2018 | समय 04:08 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

फ्री तीर्थयात्रा के ऑनलाइन आवेदन आने शुरू

By HindusthanSamachar | Publish Date: May 18 2018 4:08PM
फ्री तीर्थयात्रा के ऑनलाइन आवेदन आने शुरू
बीकानेर, 18 मई (हि.स.)। राजस्थान सरकार की पंडित दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक तीर्थ की फ्री यात्रा योजना के ऑनलाइन आवेदन आने शुरू हो गए हैं। देवस्थान विभाग के बीकानेर संभाग मुख्यालय के यात्रा प्रभारी महेश कुमार शर्मा ने शुक्रवार को बताया कि यात्रा की अंतिम तारीख 10 जून रखी गयी है। यात्रा पर जाने वाले इच्छुक देवस्थान विभाग की वेबसाइट या ई-मित्र के जरिए आवेदन कर सकेंगे। इस योजना के तहत राजस्थान स्तर पर लगभग छह हजार यात्रियों को रेल और चार हजार यात्रियोंं को हवाई जहाज के माध्यम से तीर्थ स्थलों की यात्रा करवायी जाएगी। शर्मा ने बताया कि देवस्थान विभाग की ओर से यात्रा को लेकर कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जा रहा है। आगामी विधानसभा चुनाव-2018 को देखते हुए इस बार जुलाई में बुजुर्गों को यह तीर्थ यात्रा करवायी जाएगी। ऑनलाइन आवेदन करने वालों के बाद कलेक्टर के माध्यम से लॉटरी निकाली जाएगी और चयनित बुजुर्गों को हिन्दुस्तान के 17 तीर्थ स्थानों की यात्रा करवाई जाएगी। 60 वर्ष से अधिक उम्र के बुजुर्ग इसके पात्र होंगे जबकि 70 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिकों को अपने साथ सहायक ले जाने की अनुमति दी जाएगी। शर्मा ने यह भी बताया कि यात्रा के लिए इस बार भामाशाह कार्ड को भी अनिवार्य किया गया है। शर्मा ने बताया कि रेल द्वारा तीर्थ यात्रा रामेश्वरम्, तिरुपति, जगन्नाथपुरी, द्वारकापुरी व वैष्णादेवी की करवाई जाएगी। हवाई यात्रा के माध्यम से जिन जगहों पर तीर्थ यात्रा करवायी जाएगी उनमें रामेश्वरम्, मीनाक्षी मंदिर-मदुरई, तिरुपति, श्रीपुरम लक्ष्मी स्वर्ण मंदिर-वेल्लोर तथा कांचीपुरम, जगन्नाथपुरी, लिंगराज मंदिर, भुवनेश्वर, सूर्य मंदिर-कोणार्क, वैष्णोदेवी, द्वारकापुरी, सोमनाथ, नागेश्वर, प्रयाग (इलाहाबाद)-चित्रकूट-वाराणसी (काशी), सारनाथ, बिहार शरीफ, (नालंदा)-राजगीर-गया-बोधगया-पटना साहिब, अमृतसर-आनंदपुर साहिब, श्रवणबेलगोला-मैसूर, सम्मेद शिखर-गया-बोधगया/पटना-पावापुरी-कुण्डलपुर (वैशाली), गोवा, शिरडी-शनि सिंगनापुर-त्रयम्बकेश्वर-घृष्णेश्वर, अजन्ता-एलोरा, कामाख्या-गुवाहाटी (राज्य संग्रहालय, कलाक्षेत्र), उज्जैन (महाकालेश्वर, काल भैरव मंदिर, हरसिद्धि, नवग्रह मंदिर)-ओंकारेश्वर, हरिद्वार-ऋषिकेश-मसूरी-देहरादून, कोच्चि, त्रिशूर, श्री सुब्रमण्यम स्वामी मंदिर गुरुवायुर, लखनऊ-अयोध्या शामिल है। हवाई जहाज की तीर्थ यात्रा का स्थान जयपुर, जोधपुर व उदयपुर रखा गया है। हिन्दुस्थान समाचार /राजीव/सुप्रभा/प्रतीक
image