Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, सितम्बर 26, 2018 | समय 08:36 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बिहार में सरकार बनाने की मांग को लेकर राजद का राजभवन मार्च

By HindusthanSamachar | Publish Date: May 18 2018 12:47PM
बिहार में सरकार बनाने की मांग को लेकर राजद का राजभवन मार्च
पटना, 18 मई (हि.स.)| कर्नाटक में चुनाव के बाद सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने का मौका दिए जाने को आधार बनाते हुए बिहार की प्रमुख विपक्षी पार्टी राष्ट्रीय जनता दल अपने नेता तेजस्वी यादव के नेतृत्व में शुक्रवार को राजभवन मार्च कर राज्यपाल से बिहार की सबसे बड़ी पार्टी राजद को सरकार बनाने देने का दावा पेश करेगी। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के आवास पर आज सुबह से ही बैठक चल रही है जिसके बाद राजद का राजभवन मार्च होगा। तेजस्वी यादव ने संवाददाताओं के साथ बातचीत करते हुए कहा कि अगर कर्नाटक के राज्यपाल भारतीय जनता पार्टी को सबसे बड़ी पार्टी होने के आधार पर सरकार बनाने का मौका दे सकते हैं तो उसी आधार पर बिहार के राज्यपाल को भी उनकी पार्टी राजद को यह मौका देना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्यपाल से मिलकर वह सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। जब कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी भाजपा को सरकार बनाने का मौका मिल सकता है तो फिर बिहार में क्यों नहीं? तेजस्वी यादव ने कहा कि राजद राज्य की सबसे बड़ी पार्टी है। विधानसभा में उसे सबसे ज्यादा सीटें मिली है। इसके अलावा कांग्रेस भी उसके साथ है। तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि भाजपा हर मामले में अपनी ही चलाना चाहती है। कर्नाटक के राज्यपाल अगर भाजपा को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित कर सकते हैं तो राष्ट्रपति पिछले दरवाजे से बनी वर्तमान की बिहार सरकार को बर्खास्त करने का निर्देश देकर बिहार की सबसे बड़ी पार्टी को सरकार बनाने का मौका दें। उन्होंने कहा लोकतंत्र में एक जैसे मामले में दो मापदंड नहीं होने चाहिए। इस बीच कांग्रेस पार्टी के विधायक भी पटना पहुंच चुके हैं| साथ ही हम के अध्यक्ष जीतन राम मांझी भी तेजस्वी यादव के साथ इस मार्च में शामिल होंगे। तेजस्वी यादव ने कहा कि राजद, कांग्रेस और हम के 108 विधायक राजभवन मार्च करने को तैयार हैं। उधर, कर्नाटक में लोकतंत्र की हत्या के विरोध में शु्क्रवार को पटना में राजद का एक दिवसीय धरना जारी है। तेजस्वी यादव ने भाजपा पर जनादेश के अपमान का आरोप लगाते हुए कहा कि सबसे पहले उसने जदयू के साथ मिलकर बिहार में जनादेश का अपमान किया और अब कर्नाटक में भी वही दोहराया गया। भाजपा पर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगाते हुए उन्होंने कर्नाटक में भाजपा को सरकार बनाने का मौका दिया जाने के विरोध में उन्होंने सभी विपक्षी दलों से बेंगलुरू में एकजुट होकर धरना-प्रदर्शन करने की अपील की। तेजस्‍वी के रुख का समर्थन करते हुए कांग्रेस विधायक रामदेव राय ने कहा कि कुछ लोग लोकतंत्र को बर्बाद कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी तेजस्वी यादव के राजभवन मार्च का समर्थन करती है। इस बीच जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव ने तेजस्वी यादव के राजभवन मार्च को ड्रामा बताते हुए कहा कि तेजस्वी यादव को विधानसभा में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाना चाहिए। पप्पू यादव ने कहा कि राजभवन मार्च से कुछ हासिल होने वाला नहीं है। पप्पू यादव ने यह भी माना कि देश में जिसकी लाठी उसकी भैंस वाला कानून चल रहा है| सरकार विरोधियों को फंसा कर राज्यपालों का इस्तेमाल कर सत्ता हथियाने में जुटी हुई है। हिन्दुस्थान समाचार / रजनी शंकर/राधा रमण
image