Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 10:36 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

गुना से पुराने कांग्रेसी केपी देंगे महाराज सिंधिया को चुनौती

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 17 2019 8:49PM
गुना से पुराने कांग्रेसी केपी देंगे महाराज सिंधिया को चुनौती
गुना, 17 अप्रैल (हि.स.)। भाजपा ने लोकसभा सीट पर ज्योतिरादित्य सिंधिया के सामने अशोकनगर जिले केपी यादव रुसल्ला को प्रत्याशी घोषित किया है। वे विधानसभा चुनाव में मुंगावली विधानसभा में कांग्रेस प्रत्याशी से हार चुके हैं। ऐसे में उन्हें सिंधिया के सामने कमजोर प्रत्याशी के रूप में देखा जा रहा है। एक समय वे जिपं अशोकनगर में सांसद सिंधिया के प्रतिनिधि रह चुके हैं। सिंधिया परिवार का गढ़ मानी जाने वाली शिवपुरी-गुना लोकसभा सीट पर भाजपा द्वारा किसी कद्दावर नेता को उतारे जाने की उम्मीद थी। लेकिन पार्टी ने विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को छोडक़र भाजपा में आए केपी यादव पर भरोसा जताया। केपी यादव अशोकनगर जिले के रहने वाले हैं और पेशे से डाक्टर हैं। उनकी पत्नी डा. अनुराधा यादव जिपं सदस्य हैं। मुंगावली विधानसभा में महेन्द्रसिंह कालूखेड़ा के निधन के बाद हुए उप चुनाव के दौरान केपी यादव कांग्रेस से टिकिट की मांग कर रहे थे। वे सांसद सिंधिया के करीबियों में गिने जाने थे। लेकिन पार्टी ने बृजेन्द्रसिंह यादव को अपना उम्मीदवार बनाया। जिसके बाद नाराज होकर उन्होंने पार्टी छोड़ भाजपा का दाम थाम लिया। जिसका इनाम भाजपा ने उन्हें विधानसभा चुनावों में मुंगावली से अपना प्रत्याशी बनाकर दिया। लेकिन वे कांग्रेस के बृजेन्द्रसिंह से हार गए। पिता भी रहे हैं राजनीति में सक्रिय केपी यादव के पिता रघुवीर सिंह यादव भी राजनीति में सक्रिय रहे हैं। पत्नी भी जिपं सदस्य हैं और अध्यक्ष का चुनाव लड़ चुकी हैं। इसके अलावा भाई महेन्द्रसिंह यादव करीला ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं। लेकिन केपी यादव ने मुंगावली विधानसभा उपचुनाव के अलावा खुद कोई चुनाव नहीं लड़ा। हिन्दुस्थान समाचार / अभिषेक / मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image