Hindusthan Samachar
Banner 2 शुक्रवार, अप्रैल 19, 2019 | समय 22:16 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

महावीर जयंती पर निकाली गई विशाल शोभायात्रा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 17 2019 8:43PM
महावीर जयंती पर निकाली गई विशाल शोभायात्रा
देवास, 17 अप्रैल (हि.स.) । जियो और जीने दो का संदेश देकर दुनिया को अहिंसा का पाठ पढ़ाने वाले जैन जगत के 24वें तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी का जन्म बुधवार को कल्याणक दिवस के रूप में जैन समाज द्वारा अपूर्व उत्साह एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। जिसमें देवास के सभी धर्म, वर्ग एवं सम्प्रदाय के लोगों ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया। जिसके परिणाम स्वरूप यह कार्यक्रम संपूर्ण नगरवासियों का एक धार्मिक उत्सव निरूपित हुआ। इस दौरान विशाल शोभायात्रा निकाली गई। जिसमें मक्सी के प्रसिद्ध बैंड एवं नासिक के करतब युक्त ढोल की धुन पर नवयुवकों की विशाल टोली थिरकते एवं नृत्य करते हुए चल रही थी। श्रद्धालुओं ने महावीर प्रभु की जयंती झूूमते-नाचते गातेे हुए मनाई । रजत चांदी के दो सुसज्जित रथ में बैठकर जब भगवान महावीर स्वामी नगर भ्रमण पर विशाल शोभा-यात्रा के साथ निकले तो श्रीफल एवं अक्षत से अपने प्यारे प्रभु की अगवानी के लिये श्रद्धालु दौड़े चले आये। शोभा यात्रा में दो चांदी के रथ एक श्वेताम्बर मंदिर एवं एक दिगम्बर जैन मंदिर से निकले। इसकी छटा से संपूर्ण नगर महावीरमय बन गया। इस अवसर पर शोभायात्रा का मार्ग में अनेक धार्मिक, सामाजिक, व्यापारिक एवं राजनैतिक संस्थाओं ने भव्य स्वागत किया। बता दें कि महावीर जयंती की पूर्व संध्या पर देवास के सभी जैन संघों की महिलाओं द्वारा यादे महावीर की नामक नृत्य एवं भक्ति निशा का मंचन किया गया। वहीं, बुधवार को महावीर जयंती पर भगवान महावीर की सजी हुई झांकियां आकर्षण का केन्द्र बनी। शोभायात्रा के अंतिम छोर पर एक विशेष वाहन की व्यवस्था की गई, जिसमें शोभायात्रा में उपयोग किए गये डिस्पोजल एवं फूलों को एकत्रित करके स्वच्छ भारत, सुंदर देवास,स्वस्थ समाज का संदेश नगरवासियों को दिया गया। इस विशाल आयोजन में समिति के अध्यक्ष दीपक जैन , महासचिव शैलेन्द्र चौधरी एवं पदाधिकारी विलास चौधरी, भरत चौधरी, अतुल जैन, पारस जैन, अरूण मूणत , अशोक जैन मामा, अजय संघवी, राजेश जैन, संजय कटारिया, अरविंद जैन मामा, मुकेश चौधरी, राकेश तरवेचा,विमल रॉका, मनीष जैन ने सहयोग प्रदान किया। महावीर जयंती के उपलक्ष्य में नगर के सभी जैन मंदिरों में अनेक विशेष धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन हुआ। जैन धर्मावलंबियों ने अपने निवास स्थान पर केशरिया ध्वज फहराये तथा दीपक जलाये। साथ ही सभी जैन मंदिरों पर आकर्षक विद्युत सज्जा की गई। आकर्षक शोभायात्रा का नजारा प्रवक्ता विजय जैन ने बताया कि मुख्य शोभायात्रा एवं कलश यात्रा सुबह 8.30 बजे श्री शंखेश्वर पाश्र्वनाथ मंदिर तुकोगंज रोड से निकाली गई। शोभायात्रा में हजारों की संख्या में महिला, पुरूष तथा बच्चे शामिल थे। नव युवक एवंं नवयुवतियों ने विशेष परिधान धारण किए थे। विशाल जनसमुदाय को समाहित किये हुए यह शोभायात्रा अनेक आकर्षणों से सुसज्जित थी। सबसे आगे अश्वारोही दल केशरिया ध्वज थामें चल रहा था। नवयुवकों में अपूर्व उत्साह था, जो देखते ही बनता था। बालिकाएं आकर्षक डांडिया रास प्रस्तुत कर रही थी। महिलाओं की विशाल संख्या मस्तक पर 108 कलश लेकर कतारबद्ध चल रही थी। इसके बाद चांदी के दो सुसज्जित रथ में विराजमान थे प्रभु महावीर स्वामी। भगवान की एक झलक पाने के लिये श्रद्धालुओं में होड़ लगी हुई थी। शोभायात्रा वर्धमान जैन स्थानक, श्री आदेश्वर मंदिर बड़ा बाजार,आदिनाथ चौक, श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर मंदिर कवि कालिदास मार्ग, श्री चन्दाप्रभु मंदिर एम.जी. रोड़, श्री चन्दाप्रभु माणिभद्र मंदिर सुतार बाखल , जवाहर चौक, श्री शंखेश्वर पाश्र्वनाथ मंदिर होते हुये श्रमण संस्कृति सदन नयापुरा पर समाप्त हुई। हिन्दुस्थान समाचार/धर्मेन्द्र/मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image