Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 07:38 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

महावीर जन्मकल्याणक पर सत्य-अहिंसा का उदघोष करती निकली भव्य शोभायात्रा

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 17 2019 8:34PM
महावीर जन्मकल्याणक पर सत्य-अहिंसा का उदघोष करती निकली भव्य शोभायात्रा
छतरपुर, 17 अप्रैल (हि.स.)। जैन धर्मावलंबियों के 24वें एवं अंतिम तीर्थंकर भगवान महावीर स्वामी का 2618 वां जन्मकल्याणक बुधवार को पूज्य आचार्यश्री विनिश्चयसागर जी के ससंघ सानिध्य में विविध धार्मिक, सांस्कृतिक और आध्यात्मिक कार्यक्रमों के साथ हर्षोल्लास से मनाया गया। इस अवसर पर नगर के सभी जैन मंदिरों को मनमोहक रंग बिरंगी रोशनी से सजाया गया है। महावीर जन्म कल्याणक के पावन पर्व पर प्रात:8 बजे भगवान महावीर स्वामी की एक भव्य शोभायात्रा नगर के प्रमुख मार्गों से निकाली गई। इस प्रसंग पर नगर में चल रहे चार दिवसीय आयोजन का समापन 18 अप्रेल को प्रात: डेरापहाड़ी पर श्रमण नेमिसागर महाराज के 30वें मुनि दीक्षा दिवस समारोह के साथ होगा। जैन समाज के डॉ. सुमति पैन ने बताया कि भगवान महावीर जन्मकल्याणक महोत्सव का शुभारंभ आज 8 बजे कोतवाली के समीप स्थित श्री नेमिनाथ जिनालय से एक भव्य शोभायात्रा से हुआ। यह शोभायात्रा महल रोड, छत्रसाल चौक होते हुए मेला ग्राउंड स्थित श्री अजितनाथ जिनालय पहुंची। दूसरी ओर डेरा पहाड़ी क्षेत्र की जैन समाज भी पूज्य आचार्य श्री विनिश्चय सागर की महाराज के ससंघ सानिध्य में श्रीजी की शोभायात्रा के साथ मेलाग्राउंड पहुंच कर इस मुख्य शोभा यात्रा में सम्मिलित हो गई। यहां श्री अजितनाथ जिनालय के दर्शन, वंदन और मेला ग्राउंड स्थित कीर्तिस्तंभ पर जैन पंचरंगा ध्वज फहराने के बाद यह शोभा यात्रा आकाशवाणी तिराहा, बस स्टेंड, चौक बाजार होते हुए पुन:श्री नेमिनाथ जिनालय पहुंच कर सोल्लास सम्पन्न हुई। शोभायात्रा में इस बार भी ड्रेस कोड के तहत पुरुष एवं युवा वर्ग सफेद कुर्ते-पैजामे व सिर पर सफेद टोपी, महिलाएं केसरिया साड़ी और बच्चे अपनी मोहक वेशभूषा में दो-दो की लाइन में चलते हुए महावीर स्वामी के सन्देश जियो और जीने दो तथा अहिंसा परमो धरम: का उदघोष करते एवं भगवान महावीर का जयकारा लगाते चल रहे थे। श्री जी की आकर्षक पालकी, मधुर बैंड पार्टी, कतारबद्ध श्रध्दालु, फहराते जैन ध्वज लिए बच्चे इस शोभायात्रा की शोभा में चार चांद लगा रहे थे। जैन समुदाय के साथ-साथ नगर के विभिन्न संगठनों ने शोभायात्रा का स्वागत किया एवं श्री जी की आरती अपने अपने घर के समक्ष की। शोभायात्रा के समापन के बाद बजरिया स्थित नवीन जैन धर्मशाला प्रांगण में सभी श्रद्धालुओं ने वात्सल्य भोज किया। शोभायात्रा के बाद जिला अस्पताल में मरीजों तथा वृद्धाश्रम में वुजुर्गों के स्वास्थ्य लाभ की कामना के साथ समाज के युवा सदस्यों ने फल वितरित किए। दोपहर साढ़े तीन बजे कोतवाली के पास स्थित जैन मन्दिर में श्री जी का मंगल अभिषेक पूजन धार्मिक विधि विधान के साथ हुआ। सायंकाल नगर के सभी जैन मन्दिरों में श्री जी की संगीतमयी सामूहिक आरती विश्व कल्याण की कामना की के साथ की गई। हिन्दुस्थान समाचार/पवन/नरेश / मुकेश
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image