Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 09:52 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

कांग्रेस ने किया असहयोग आंदोलन छेड़ने का ऐलान

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 17 2019 7:58PM
कांग्रेस ने किया असहयोग आंदोलन छेड़ने का ऐलान
मुंबई, 17 अप्रैल (हि.स.)। कांग्रेस पार्टी के मुंबई अध्यक्ष मिलिंद देवड़ा ने बुधवार को 500 वर्ग फुट के मकानों के संपत्ति कर माफ करने के मुद्दे को लेकर भाजपा-शिवसेना सरकार पर निशाना साधा। मिलिंद ने कहा कि राज्य सरकार मुंबईकरों को बेवकूफ बना रही है। मुंबई मनपा चुनाव से पहले भाजपा-शिवसेना ने मुंबई और ठाणे में पूरा संपत्ति कर माफ करने की बात कही थी, लेकिन आज तक संपत्ति टैक्स माफ नहीं किया गया। मिलिंद ने असहयोग आंदोलन छेड़ने का ऐलान करते हुए लोगों से संपत्ति कर तब तक नहीं भरने की अपील की है, जब तक कि भाजपा-शिवसेना पूरी छूट का वादा पूरा नहीं करते। कांग्रेस के मुंबई प्रदेश कार्यालय में प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए मिलिंद ने भाजपा-शिवसेना पर हमला बोला। मिलिंद ने कहा कि शिवसेना ने जनवरी 2017 में अपने चुनावी घोषणा पत्र में मुंबई और ठाणे में 500 वर्ग फुट के घरों का टैक्स माफ करने का वादा किया था। शिवसेना के आदित्य ठाकरे ने ट्विट कर यह जानकारी दी थी। भाजपा के मुंबई अध्यक्ष आशीष शेलार ने मार्च 2018 में 700 वर्ग फुट तक के घरों का संपत्ति टैक्स माफ करने की बात कही थी। मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने सदन के पटल पर इस प्रस्ताव के अनुमोदन का आश्वासन दिया था। जबकि ऐसा कुछ भी नहीं किया गया। राज्य में भाजपा-शिवसेना की सरकार है और मुंबई के शिवसेना के महापौर हैं। मिलिंद ने कहा कि 8 मार्च 2019 को महाराष्ट्र के कैबिनेट ने बृहन्मुंबई महानगरपालिका के नियम 1888 सेक्शन 140 सी में संशोधन पर सहमति जताई। 10 मार्च, 2019 को महाराष्ट्र अध्यादेश संख्या XI ऑफ 2019 जारी किया गया। मिलिंद ने भाजपा-शिवसेना को अवसरवादी और मौका परस्त बताते हुए कहा कि पारित अध्यादेश चुनावी जुमला है। टोटल प्रोपर्टी टैक्स पर 11 प्रतिशत ही माफ किया गया है। मिलिंद ने कहा कि इस मुद्दे को लेकर हम सड़क पर उतरेंगे और हमारी सरकार आने पर हम लोगों का पूरा टैक्स माफ करेंगे। मिलिंद ने कहा कि भाजपा-शिवसेना गठबंधन ने मुंबई को बर्बाद कर दिया है। इस शहर को अब खराब आधारभूत संरचना और जीवन की निम्न गुणवत्ता के लिए जाना जाता है। मूलभूत सुविधाओं, जैसे स्वच्छ जल, स्वच्छ वायु, खुली जगह, सुरक्षित पुल, स्वच्छ सड़क, शौचालय और स्वच्छता की उपेक्षा की गई है। मुंबईवासियों को इस भ्रष्ट और अक्षम मनपा के विरूद्ध खड़ा होना चाहिए। हम सेना-भाजपा को चैन से सोने नहीं देंगे, जब तक वे 500 वर्ग फुट क्षेत्रफल के घरों को संपत्ति कर से पूरी छूट का वादा नहीं निभाएंगे। मिलिंद ने कहा कि फडणवीस सरकार में किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं। बेरोजगारी चरम पर जा पहुंची है। शिवसेना-भाजपा दोनों ही मुंबई में विकास को जनता तक पहुंचाने में असफल रही है। हिन्दुस्थान समाचार/ विनय/राजबहादुर
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image