Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 10:24 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

राजस्थान में अंधड़ और बारिश से 25 की मौत, 17 घायल

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 17 2019 7:49PM
राजस्थान में अंधड़ और बारिश से 25 की मौत, 17 घायल
जयपुर,17 अप्रैल (हि.स.)। प्रदेश में मौसम की मार से किसानों की तबाह हुई फसल और उनकी आंखों से फूटी रूलाई के बाद सूबे के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार सुबह ही अफसरों को तत्काल निर्देशित कर जल्द नुकसान का आंकलन कर राहत देने के निर्देश दिए इसके साथ मृतक परिवार को 4 लाख की फौरी सहायता देने की घोषणा की है। प्रदेश में मौसम की मार से जानमाल की भी जबर्दस्त हानि हुई है। बुधवार देर शाम तक जिला कलेक्टर्स की प्रारम्भिक रिपोर्ट में करीब 25 लोगों की मौत की जानकारी मिली है। वहीं करीब 17 से ज्यादा लोग घायल हुए तो सैंकड़ों मवेशी की मौत हो चुकी है। दर्जनों पेड़ उखड़े हैं। नुकसान का आंकड़ा और बढऩे की संभावना है। आपदा प्रबंधन सचिन आशुतोष एटी ने सरकार को इस संबंध में रिपोर्ट सौंप दी है। प्रदेश में मौसम के बिगड़े मिजाज को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बेहद चिंतित है। सीएम गहलोत ने कहा कि किसानों की फसलों की बर्बादी हुई है, मुझे इसकी चिंता है और मैंने मुख्य सचिव को कहा है कि खराबे का तत्काल आकलन करवाइए, ताकि किसानों को तत्त्काल मुआवजा मिल सके। साथ ही कहा कि आचार संहिता अपनी जगह है और किसानों को राहत देना अहम है। मुख्य सचिव डी बी गुप्ता ने बुधवार सुबह नुकसान प्रभावित इलाकों में जिला कलेक्टर्स से रिपोर्ट लेते हुए पांबद किया कि नुकसान का जल्द आंकलन किया जाए। फसल ओले की मार से खराब- प्रदेश में तेज अंधड़, बरसात और ओले की मार से किसानों की खड़ी फसल बर्बाद हो चुकी है वहीं जो काटी फसल खेतों में रखी थी वो भी गोदाम जाने से पहले भीग गई अब किसान रो रहे हैं। इस बरसात की मार ने उन्हें पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है। प्राकृतिक आपदा में 25 मौतों की पुष्टि अब तक सरकारी अधिकारी कर चुके है। झालावाड़ और जयपुर चार- चार, उदयपुर में पांच, बूंदी, जालोर और राजसमंद में दो- दो व अलवर, बारां, भीलवाड़ा, हनुमानगढ़, पाली और प्रतापगढ़ में एक- एक व्यक्ति की मौत हुई है। जबकि उदयपुर में पांच, हनुमानगढ़ व राजसमंद में चार- चार, टोेंक में दो और भीलवाड़ा व दौसा में एक- एक व्यक्ति घायल हुआ है। प्रदेश के आपदा राहत मंत्री मास्टर भंवरलाल ने कहा है कि नुकसान का जल्द आंकलन कर किसानों को शीघ्र ही राहत दी जाएगी। गांव-गांव अफसर जाएंगे। मृतक परिवारों को करीब चार लाख रुपये की फौरी राहत दी गई है। आचार संहित को आपदा में आड़े नहीं आने देंगे किसानों के दुख में सरकार साथ खड़ी है। हिन्दुस्थान समाचार/ प्रशांत/ ईश्वर
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image