Hindusthan Samachar
Banner 2 रविवार, अप्रैल 21, 2019 | समय 10:08 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

हिंसा के दम पर प्रजातंत्र का गला घोंटना चाहती हैं ममता बनर्जी : आलोक संजर

By HindusthanSamachar | Publish Date: Apr 17 2019 7:03PM
हिंसा के दम पर प्रजातंत्र का गला घोंटना चाहती हैं ममता बनर्जी : आलोक संजर
भोपाल, 17 अप्रैल (हि.स.)। ममता बनर्जी और उनकी तृणमूल कांग्रेस हिंसा के सहारे सत्ता पर काबिज हैं और लोकसभा चुनाव में भी वे ऐसे ही हथकंडे अपनाकर प्रजातंत्र का गला घोंटना चाहते हैं। लेकिन पश्चिम बंगाल की जनता उनकी इन कोशिशों को भलीभांति जानती है और उन्हें करारा जवाब देगी। यह बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता व सांसद आलोक संजर ने पश्चिम बंगाल की तृणमूल सरकार की मंत्री और ममता बनर्जी की करीबी सहयोगी रत्ना घोष के वीडियो के वायरल होने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कही, जिसमें वे कार्यकर्ताओं को हिंसा के लिए भड़का रही हैं। ममता बनर्जी सरकार में मंत्री रत्ना घोष का एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें वे तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को चुनाव ड्यूटी में तैनात सीआरपीएफ के जवानों पर हमले के लिए भड़का रही हैं। इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए आलोक संजर ने कहा कि ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने हिंसा के सहारे पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र का अपहरण कर लिया है। पहले उन्होंने आतंक फैलाने के लिए भाजपा के कार्यकर्ताओं और समर्थकों की हत्याएं कीं, उन पर हमले कराए। लेकिन जब बात नहीं बनी, तो अब वे लोकसभा चुनाव में हिंसा और गड़बड़ी के सहारे लोकतंत्र का गला घोंटने पर आमादा हैं। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी की करीबी सहयोगी के इस वीडियो से साबित हो गया है कि तृणमूल कांग्रेस चुनाव जीतने के लिए हिंसा और अराजकता पर भरोसा करती रही है और लोकसभा चुनाव में भी ऐसा ही करना चाहती है। उन्होंने कहा कि ममता दीदी को यह ध्यान रखना चाहिए कि इस तरह से प्रजातंत्र का दमन अधिक दिनों तक नहीं चलता। पश्चिम बंगाल के लोग बिना किसी डर के अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे और ममता दीदी की इन कोशिशों का जवाब अपने वोट से देंगे। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी के आतंक और उनके गुंडाराज का समय पूरा हो गया है। हिन्दुस्थान समाचार/केशव/सुभाष
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image