Hindusthan Samachar
Banner 2 बुधवार, मार्च 20, 2019 | समय 06:17 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

अफ़ग़ानिस्तान में शांति वार्ता को लेकर कड़वाहट, अमेरिका ने सुनाई खरी-खोटी

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 17 2019 11:21AM
अफ़ग़ानिस्तान में शांति वार्ता को लेकर कड़वाहट, अमेरिका ने सुनाई खरी-खोटी
हम्मादुल्ला मोहिब के बयान पर जताया कड़ा एतराज लॉस एंजेल्स, 16 मार्च (हि.स.)। अफ़ग़ानिस्तान में अमेरिकी विशेष प्रतिनिधि जलमय ख़लीलजाद के नेतृत्व में तालिबान के साथ शांतिवार्ता को लेकर अमेरिका और अफ़ग़ानिस्तान के बीच कड़वाहट के संकेत मिल रहे हैं। अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ़ गनी के विश्वस्त राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हम्मादुल्ला मोहिब की ओर से अमेरिकी प्रतिनिधि जलमय ख़लीलजाद के शांति प्रयासों पर अंगुली उठाए जाने पर अमेरिकी विदेश विभाग ने कड़ा एतराज किया है। विदेश विभाग में राजनीतिक मामलों के एक उच्चाधिकारी डेविड हाले ने इसे लेकर हम्मादुल्ला मोहिब को विभाग में बुलाकर खरी-खोटी सुनाई है। उन्हें कड़े शब्दों में कहा गया है कि जलमय ख़लीलजाद के शांति प्रयासों पर अंगुली उठाना और उनकी नेकनीयती पर शंका जाहिर किया जाना, विदेश विभाग की मंशा पर अंगुली उठाना है। उन्होंने यह भी कहा कि अफ़ग़ानिस्तान के सुरक्षा सलाहकार की ओर से ऐसे मौके पर शंका जाहिर करने से दोनों देशों के आपसी संबंधों पर प्रतिकूल असर पड़ेगा। गौरतलब है कि हम्मादुल्ला मोहिब ने हाल ही में अमेरिका में संवाददाता सम्मेलन के दौरान जलमय ख़लीलजाद के बारे में कहा था कि वे शांति वार्ता में अफ़ग़ानिस्तान सरकार को दरकिनार कर रहे हैं और तालिबान के अस्तित्व को बढ़ा-चढ़ाकर पेश कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जलमय ख़लीलजाद अफ़ग़ानिस्तान में अपनी राजनीतिक अभिलाषा पूरा करने में लगे हैं। अमेरिकी विदेश विभाग ने हम्मादुल्ला के कथन को निराधार और बेबुनियाद बताया है। एक बयान जारी कर स्पष्ट किया है कि ख़लीलजाद की नेकनीयती के बारे संदेह करना, विदेश विभाग की नीयत पर अंगुली उठाना है, जिसे अमेरिका कभी स्वीकार नहीं करेगा। बयान में कहा गया है कि अफ़ग़ानिस्तान में जन्मे और पाले-बढ़े ख़लीलजाद एक सुलझे हुए राजनयिक हैं, जो बग़दाद और क़ाबुल में राजदूत रह चुके हैं। उन्होंने क़तर में तालिबान के साथ वार्ता के बाद अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ़ गनी को रिपोर्ट देते रहे हैं। हम्मादुल्ला मोहिब की ओर से संवाददाता सम्मेलन बुलाकर दिए गए बयान पर अफ़ग़ानिस्तान सरकार में मुख्य कार्यकारी अधिकारी अब्दुल्ला अब्दुल्ला ने भी सख़्त एतराज़ जताया है। हिंदुस्थान समाचार/ ललित/ संजीव
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image