Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, मार्च 21, 2019 | समय 05:09 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान को ममता ने दी श्रद्धांजलि

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 17 2019 10:17AM
बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान को ममता ने दी श्रद्धांजलि
कोलकाता, 17 मार्च (हि.स.)। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के पिता शेख मुजीबुर रहमान को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने जन्मदिन के मौके पर याद कर श्रद्धांजलि दी है। रविवार सुबह मुख्यमंत्री ने इस बारे में ट्वीट किया है। ममता ने लिखा है कि आज बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जयंती है। इस मौके पर मैं उन्हें याद कर श्रद्धांजलि दे रही हूं। उल्लेखनीय है कि 17 मार्च 1920 को जन्मे शेख़ मुजीबुर रहमान बांग्लादेश के संस्थापक नेता, महान अगुआ एवं प्रथम राष्ट्रपति थे। उन्हें सामान्यत: बंगलादेश का जनक कहा जाता है। वे अवामी लीग के अध्यक्ष थे। उन्होंने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ सशस्त्र संग्राम की अगुवाई करते हुए बांग्लादेश को मुक्ति दिलाई। वे बांग्लादेश के प्रथम राष्ट्रपति बने और बाद में प्रधानमंत्री भी बने। वे ''शेख़ मुजीब'' के नाम से भी प्रसिद्ध थे। उन्हें ''बंगबन्धु'' की पदवी से सम्मानित किया गया। 15 अगस्त 1975 को सैनिक तख़्तापलट के द्वारा उनकी हत्या कर दी गई। उनकी दो बेटियों में एक शेख हसीना तख़्तापलट के बाद जर्मनी से दिल्ली आई और 1981 तक दिल्ली रही और 1981 के बाद बांग्लादेश जाकर पिता की राजनैतिक विरासत को संभाला। मुजीब के सभी तीन बेटे और उनकी पत्नी की बारी-बारी से हत्या कर दी गई। उनकी दो बेटियाँ संयोगवश बच गईं, जो घटना के समय जर्मनी में थीं। उनमें एक शेख हसीना और दूसरी शेख़ रेहाना थीं। शेख़ हसीना अभी बांग्लादेश की प्रधानमंत्री हैं। अपने पिता की हत्या के बाद शेख़ हसीना हिन्दुस्तान रहने लगी थीं। वहीं से उन्होंने बांग्लादेश के नए शासकों के ख़िलाफ़ अभियान चलाया। 1981 में वह बांग्लादेश लौटीं और सर्वसम्मति से अवामी लीग की अध्यक्ष चुन ली गयीं। हिन्दुस्थान समाचार/ओम प्रकाश/मधुप
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image