Hindusthan Samachar
Banner 2 गुरुवार, मार्च 21, 2019 | समय 05:43 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

मातृभूमि से समझौता नहीं: इंद्रेश कुमार

By HindusthanSamachar | Publish Date: Mar 16 2019 11:22PM
मातृभूमि से समझौता नहीं: इंद्रेश कुमार
मुंबई, 16 मार्च (हि स) मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के संयोजक इंद्रेश कुमार ने शनिवार को मुंबई में शनिवार को हिंदी विवेक पत्रिका के दशकपूर्ति वर्ष पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मातृभूमि से किसी भी कीमत पर समझौता नहीं किया जा सकता है। कांग्रेस ने देश को स्वतंत्रता नहीं दिलाई है। कांग्रेस ने देश को विभाजित किया है। लाखों लोगों के बलिदान के बाद स्वतंत्रता मिली है। पाकिस्तान को जिन्ना व नेहरु ने पनपाया है। इंद्रेश कुमार ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर पाकिस्तान अभी भी नहीं सुधरा तो उसके 6 टूकड़े हो जाएंगे। अगर पाकिस्तान भारत के साथ नफरत करना नहीं छोड़ा तो 2025 तक हो सकता है उसका नामोनिशान ही मिट जाएं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को यह समझना चाहिए कि चीन उस पर कब्जा करना चाहता है। इंद्रेश कुमार ने कहा कि भारत में रहने वाले सभी हिन्दुस्थानी है। सभी जाग जाए और सभी दूसरों को भी जगाएं। आर्य समाज का मुख्य उद्येश्य छुआछूत मुक्ति, नारी की शिक्षा और सम्मान, जीवन के बीच शुद्धता होनी चाहिए। आज कल प्रचलित है,ईमानदार नहीं जी सकता। पर यह गलत है। हमें स्वामी दयानद सरस्वती के ज्ञान को आगे ले जाना है और इसके लिए सभी को संकल्प करना है। उन्होंने कहा कि मेरा जन्म खण्ड भारत में हुआ है,लेकिन मेरी मृत्य अखण्ड भारत में हो , इस तरह का सभी को संकल्प लेना चाहिए। हम आराम नहीं करेंगे और दूसरों को भी नहीं करने देंगे। आप जागिए और एक हजार परिवारों को जगाईए। व्यक्ति की पहचान धरती पर जिस टुकड़े पर जन्म लेता है , उससे होती है। आर्यवर्त, भारतवर्ष,हिन्दुस्थान,इंडियन,हिन्दुत्व ही हमारी पहचान है। भारतीयता ही राष्ट्रीय मानवता है। यह शास्वत सत्य है। धरती से निर्धारण होगा आप कौन हैं। परेशानियों से निपटना ही इंसानियत है। हम क्यों किसी के कहने पर अपने को संप्रदायिक माने, । जो बाटे और लड़वाये,समझ लेना गड़बड़ है। इंद्रेश कुमार ने कहा कि भारत के अंदर अलंकार को नहीं चरित्र को सम्मान दिया जाता है। अपनी पहचान कैसे हो,डिग्री से या चरित्र से । इस अवसर पर आर्य प्रतिनिधि सभा ,मुंबई के प्रधान मिठाई लाल सिंह, हिन्दुस्थान प्रकाशन संस्था के अध्यक्ष रमेश पतंगे, गुरुकुल एटा उत्तर प्रदेश के आचार्य डॉ.बागीश शर्मा, पतंजलि योग समिति मुंबई के राज्य प्रभारी सुरेश यादव,आर्य प्रतिनिधि सभा मुंबई के महामंत्री अरुण अबरोल, आर्य प्रतिनिधि सभा के उपप्रधान वेद प्रकाश गर्ग, विवेक समूह के प्रबंध संपादक दिलीप करंबेलकर,हिंदी विवेक के मुख्य के कार्यकारी अधिकारी अमोल पेडणेकर और हिंदी विवेक की कार्यकारी पल्लवी अनवेकर उपस्थित थी। हिन्दुुस्थान समाचार/धीरज /राजबहादुर
लोकप्रिय खबरें
फोटो और वीडियो गैलरी
image