Hindusthan Samachar
Banner 2 सोमवार, दिसम्बर 10, 2018 | समय 12:16 Hrs(IST) Sonali Sonali Sonali Singh Bisht

स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राजवैद्य शिवकुमार शास्त्री का निधन

By HindusthanSamachar | Publish Date: Dec 8 2018 10:21PM
स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राजवैद्य शिवकुमार शास्त्री का निधन
वाराणसी,08 दिसम्बर (हि.स.) धर्म नगरी काशी के वैद्य परम्परा के प्रमुख स्तम्भ और स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राजवैद्य शिवकुमार शास्त्री का शनिवार की शाम 86 वर्ष की अवस्था में हृदयाघात से निधन हो गया। इसकी सूचना पाते ही उनके आवास पर शुभचिंतकों के साथ शहर के गणमान्य लोग प्रशासनिक अफसर शोक संवदेना जताने पहुंचने लगे। स्वतंत्रता संग्राम सेनानी शिवकुमार शास्त्री ने अपने सुड़िया स्थित धन्वतरी आवास पर सपा प्रमुख और देश के पूर्व रक्षामंत्री मुलायम सिंह यादव,तिब्बत के सर्वोच्च धर्मगुरू नोबेल पुरस्कार से सम्मानित परम पावन दलाई लामा,पूर्व प्रधानमंत्री स्व.इंदिरा गांधी,स्व.राजीव गांधी,अपने समय की मशहूर अभिनेत्री रही स्व.वैजन्ती माला,प्रसिद्ध गायिका पद्मविभूषण स्व.गिरजादेवी जैसी नामचीन हस्तियों का इलाज किया था। राजवैद्य पं. शिवकुमार शास्त्री आयुर्वेद के बड़े जानकारों में से एक थे। उन्होंने बीएचयू से अपनी शिक्षा-दीक्षा पूरी की। अंतरराष्ट्रीय स्तर के सितार वादक रहे पं. शास्त्री वर्ष 1934 में ड्रामा की रिहर्सल किया करते थे। उन्होंने 1952 में पहली बार ड्रामा प्ले किया था और फिर दो दर्जन से भी ज्यादा शो किए। काशी के इस वैद्य का परिवार पिछले 250 सालों से ज्यादा आयुर्वेद की प्राचीन परंपरा को कायम रखे हुए है। 80 के दशक में चौधरी चरण सिंह के लिए मुलायम औषधि लेने राजवैद्य के पास आया करते थे। इसके बाद से उन्होंने पं. शास्त्री को अपना राजवैद्य मान लिया और किसी भी प्रकार की शारीरिक तकलीफ होने पर उनसे सलाह जरूर लेते थे। धनतेरस पर भगवान धन्वतरी के रजत प्रतिमा का पूजन अर्चन कर आमजन को दर्शन् करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई । इसमें वैद्य जी के सुपुत्र राजवैद्य पं.रामकुमार शास्त्री भी सहयोग करते थे। हिन्दुस्थान समाचार/श्रीधर/राजेश
image